क्या भैया मेरा दूध नहीं पिओगे आप

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta Chudai Hindi Sex हेलो फ्रेंड्स’ मैं आपकी प्यारी सी और चुलबुली समिता आज एक बहुत दिनो बाद आपको अपना अनुभव बताने आई हूँ पता नही क्यों लेकिन अपने कज़िन से चुदवाने के बाद तो मैं और भी सेक्सी हो गयी हूँ ऐसा मेरा भाई कहता है रियल ब्रदर.
वो मुझसे 2 साल छोटा है उसका नाम साहिल है यह सब तब हुआ था जब मेरा कजिन हमारे घर पर आया था (वही जो मुझे पहले चोद चुका था) वो हमारे घर पर एक हफ़्ता रुका था इस बीच हमने 3 बार मस्ती की जब भी उसको मौका मिलता वो मुझे पकड़ लेता कभी किचन में तो कभी घर के पीछे हम लोग बहुत चिपकते रहते थे साहिल को शायद हम पर शक हो गया था लेकिन एक हफ्ते बाद मेरा कज़िन चला गया कुछ दिनो बाद मेरे पेरेंट्स को कहीं जाना पड़ा किसी रिश्तेदार के यहाँ उस दिन मैं और मेरा भाई अकेले थे घर में मैं किचन में लंच तैयार कर रही थी.
मेरा भाई भी किचन में आ गया और मुझसे बातें करने लगा पहले तो नॉर्मल बात करता रहा लेकिन फिर उसने कहा “समिता तुम्हे नही लगता की हमारे मामा का लड़का थोड़ा ज्यादा ही फ्लर्ट टाइप का है मैं एकदम शॉक हो गयी की यह ऐसा क्यों पूछ रहा है मैने ऐसे ही कहा “नहीं तो! ऐसा तो कुछ भी नही लगा मुझे क्यों तुम ऐसे क्यों पूछ रहे हो? बस ऐसे ही मैने कई बार नोटीस किया था वो तुम से कुछ ज्यादा ही फ्री हो रहा था। किचन में भी वो तुम्हारे पास बैठा रहता था वैसे क्या बाते करता था वो तुमसे? अब मुझे थोड़ा शक हुआ मैने बात टालने के लिए कहा “नही, बस ऐसे ही इधर उधर की बाते करता रहता था मैने तिरछी नज़र से देखा तो मेरे भाई की नजर मेरी गांड पर थी और उसकी आँखो में मैं कामुकता देख सकती थी.
एक बार इस ख्याल ने मेरे मन में कुलबुलाहट पैदा कर दी की मैं जो करना चाहती थी अपने भाई के साथ वो ही मेरा भाई भी शायद मेरे साथ करना चाहता है मैने देखा मेरी गांड में मेरा पंजाबी सूट फंसा हुआ था और मेरा अपना छोटा भाई मेरी गांड देख रहा था मैने अचानक पूछा ऐसे क्या देख रहे हो भैया? वो थोड़ा संभला और कहा” नहीं कुछ नही.”अब मुझे पूरा यकीन हो गया था की मेरी प्यास अब मेरा छोटा भाई मिटायेगा उस दिन के बाद मैं उसको लाइन देने लगी कभी उसके सामने झुक जाती और उसको अपने बूब्स दिखाती मैने कई बार अपने भाई को लंड मसलते देखा था एक दिन वो पल आ ही गया जब मेरे भाई ने मुझे ठोक दिया उस दिन मम्मी पापा घर पर नही थे मैं झाड़ू लगा रही थी मैने बहुत ही ढीले कपड़े पहन रखे थे नीचे ब्रा भी नही पहनी थी.
मैं रोज की तरह उसके सामने झुक कर झाड़ू लगाने लगी उसकी आँखे चमकने लगी मेरे बूब्स और निपल देख के उसने अपने होंठों पर जीभ फेर दी मैने नाटक करते हुये अपने बूब्स पकड़ के कपड़े ठीक किये और शरमाने का नाटक करके अपने बेडरूम में भाग गयी मुझे पता था आज मेरा भाई ज़रूर कुछ करेगा क्योकी आज उसका लंड कुछ ज्यादा ही बड़ा लग रहा था नेकर में उसने मेरे रूम में आते ही पूछा दीदी क्या हुआ तुम झाड़ू छोड़ के क्यों भाग आई मैने कुछ नही कहा उसने फिर पूछा मैने शरमाते हुये कहा भैया! तुम मेरे वो देख रहे थे उसने फिर पूछा क्या देख रहा था? मैं समझ गयी की भाई आज ज़रूर चोदेगा मुझे मैने भी शर्म थोड़ी कम करके कहा” तुम मेरे बूब्स देख रहे थे ना तो वो मेरे करीब आ गया और कहा वो तो अपने आप दिख रहे थे.
मैने सिर झुका लिया उसने मेरे कंधे पर हाथ रख दिये और पीछे से मेरी नेक पर एक किस करते हुये मेरे दोनो बूब्स पकड़ कर बोला तुम्हारे बूब्स बहुत सुंदर हैं दीदी! मैने एक सिसकी भर कर आँखे बंद कर ली और कहा ”क्या मैं सुंदर नही हूँ?” तो उसने मुझे अपनी तरफ घुमा लिया और कहा बहुत सुंदर है मेरी दीदी? और मुझे अपने से चिपका लिया मेरे दोनो बूब्स उसकी छाती पर गड़ने लगे मैने कहा भैया क्या यह सब ठीक है हमारे बीच” तो उसने एक ज़ोर की गाली दी मुझे” साली रांड़ अपने मामा के लड़के का लंड चूसती है और उससे अपनी चूत मरवाती है तब यह ख्याल नही आया मैं एकदम शॉक हो गयी मैने उसकी तरफ़ देखा और कहा” तो तुम्हे सब पता है उसने कहा हाँ यह देख जिस दिन तूने राज का लंड चूसा था कुत्तिया यह देख उसने मुझे अपने मोबाइल पर विडियो दिखाया.
मैं और शॉक्ड हो गयी यह तो मैं थी जो अपने कजिन के लंड को मज़े के साथ किसी ब्लू फिल्म की हिरोईन की तरह चूस रही थी फिर मैने भी कहा” हरामी बहनचोद अगर तुझे सब पता था तो मुझसे इतनी मेहनत क्यों करवाई तुझे गर्म करने के लिए? तो उसने कहा” मैं देखना चाहता था की मेरी रंडी कुत्तिया बहन किस हद तक अपने भाई से चुदवाने के लिए मरती है अब मैने कहा जब बहन भाई राज़ी तो क्या करेगा काजी अब आ जा मेरे प्यारे बहनचोद भाई और ले ले अपनी बहन के नज़ारे अब हम दोनो बिल्कुल खुल चुके थे उसने अपने होंठ अपनी बहन के गुलाबी होंठो पर रख दिये और एक हाथ से मेरे 32 साइज़ के लेफ्ट बूब्स को दबाने लगा उसने कहा” मेरी समिता दीदी तू तो एक दम मस्त माल है पता नही कितनी बार तेरे नाम की मूठ मारी है.
आज तेरी चूत चोद के सारी गर्मी निकाल दूँगा मैने भी कहा” अरे मेरे बहनचोद भाई, तेरी बहन का भी यही हाल था इस साल मामा का लड़का पहले मिल गया वरना मैं तेरे से अपनी सुहागरात मनाती भाई ने कहा” चल कोई बात नही आज से तुझे मैं अपनी रंडी बना के रखूँगा और रोज तेरी चूत लूँगा बातें करते करते पता ही नही लगा कब हम दोनो नंगे हो गये उसका लंड आज पहली बार इतने करीब से देखा था एक दम सुंदर लाल गुलाबी मशरूम देख के मेरे मुँह में पानी आ गया और उसके पहले की वो कुछ बोलता मैने उसे अपने मुँह में ले लिया और किसी छोटे बच्चे की तरह चूसने लगी भाई सिसकियाँ लेने लगा उसने कहा तुम तो बिल्कुल एक रंडी बन गयी हो बहना एकदम रंडी की तरह लंड चूसती हो आहह ज़ोर से चूस बहना तेरा क्या कहना मज़ा आ गया आज तो इतना चिकना माल घर पर मेरे लंड के लिए तड़प रहा था और मैं मूठ मार के अपने लंड को शांत कर रहा था ऊऊओह आहह पूरा मुँह में ले लो दीदी और मैने उसका 7 इंच का पूरा लंड मुँह में लेने की कोशिश की लंड मेरे गले तक पहुँच गया था.
उसने मेरा सिर पकड़ के दबा दिया मैने उसकी तरफ देखा उसने मेरे मुँह में धक्के मारने स्टार्ट कर दिये थे आज मैं अपने आप को एक रंडी की तरह महसूस कर रही थी ऐसा लग रहा था जैसे मेरा भाई मुझे पैसे दे कर बाज़ार से लाया हो काफ़ी देर उसका लंड चूसने से वो और भी बड़ा और लाल हो गया था अब मैं बेड पर लेट गयी भाई मेरे उपर आ गया और मुझ पर चुम्बन की बारिश कर दी मेरे गालों पर मेरे गले पर और जब वो मेरे गुलाबी निपल के पास पहुँचा तो उसने वहा चुम्मा नही लिया और नीचे पेट पर चला गया मेने एक गाली दी बहनचोद मेरे दूध नही पियेगा क्या”
उसने मेरी तरफ देखा और उपर आ कर मेरे निप्पल पर पहले अपने होंठ रगडे और फिर उसको मुँह में ले लिया मैने अपने होंठ अपने दांतो में दबा लिए आहह मेरे बहनचोद भाई पी ले मेरा दूध श आआन्ं तू भी तो बिल्कुल बच्चे की तरह चूसता है बूब्स उउउंमाआ आहह वो मेरे एक निपल को चूस रहा था और दूसरे को पिच कर रहा था आज मैं जन्नत में थी मैने उसका सिर पकड़ कर अपने बूब्स पर दबा लिया और सिसकी से कहा आआ चूस ले भाई ज़ोर से आज के बाद रोज मेरा ही दूध पीना तू उउउंम आहह” वो बारी बारी से दोनो निपल चूस रहा था कभी कभी वो अपनी जीभ से मेरे निपल को हिलाता तो बस ऐसा लगता जैसे मैं अभी झड़ जाउंगी चूस चूस के मेरे बूब्स और निपल लाल करने के बाद उसने मेरी चूत पर अपने होंठ रख दिये उसके इस हमले से मैं उछल पड़ी सच कहूँ मेरा भाई मेरे कजिन से भी बड़ा चोदने में माहिर था उसको पता था की अपनी सेक्सी बहन को कैसे चोदना है उसने अपनी जीभ मेरी गीली चूत में डाल दी और मैं झड़ गयी वो मज़े से मेरे काम रस को चाट गया लेकिन वो रुका नही ओर मैं ऑआआआश आ करती रही बेड पर पड़ी पड़ी.
अब वो मेरी टांगो के बीच आ चुका था उसने कहा बहना अब असली मज़े का टाइम आ गया है मैने कहा भैया प्लीज ज़रा ध्यान से करना मैं तुम्हारी बहन हूँ कोई रंडी नही ऐसा मैने इसलिये कहा था क्योकी उसका लंड कजिन के लंड से ज्यादा मोटा था उसने अपना लाल मशरूम लंड मेरी चूत पर रखा और पुश किया मेरे मुँह से एक आह निकली और उसका टोपा मेरी चूत में जा चुका था फिर थोड़ा और ज़ोर लगाया तो आधे से ज्यादा लंड चूत में चला गया और मेरे मुँह से निकला उउउईई माँ धीरे भैया बहुत मोटा है भाई बोला चुप साली कुत्तिया नखरे करती है इतनी बार चुदवाके भी दर्द का नाटक करती है मैने कहा नही भैया सच कह रही हूँ तुम्हारा बहुत मोटा है.
फिर उसने मेरी एक ना सुनी और पूरा लंड डाल दिया मेरे अंदर मैं बस एक चीख मार कर रह गयी अब वो मुझे चोदने लगा मैं भी मजे से उसका साथ देने लगी और उसको बोला” चोद साले कुत्ते अपनी कुत्तिया बहन को आज से मैं तेरी रंडी और तेरी कुत्तिया हूँ जब तू कहेगा तेरे लंड के आगे कुत्तिया बन जाउंगी और तू कुत्ते की तरह मेरे उपर चड जाना आज के बाद रोज तेरी बहना तेरा बिस्तर गर्म करेगी और जी भर के चोदना अपनी बहन को भाई हाँ मेरी बहना अब तेरी चूत में मेरा लंड ही रहेगा तू इसी तरह अपने भाई से चुदवाती रहना फिर उसने मुझे कुत्तिया बनने को कहा.
मैं उसके सामने कुत्तिया बन गयी अब मेरा भाई मुझे किसी कुत्ते की तरह उपर चड के चोद रहा था आहह आहह आह ऊहह उमम्म मम्मी तेरे बेटे ने आज मुझे चोद ही डाला और मैं झड़ गयी थोड़ी देर बाद मेरा भाई भी झड़ने लगा तो मैने उसको लंड निकालने को कहा और अपने मुँह में ले लिया वो मेरे मुँह में झड़ गया अब हम जब भी मौका मिलता है चुदाई करते हैं..