खुनी चुदाई हुई मामी की चूत की

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta Chudai Hindi Sex हाय फ्रेंड्स मेंरा नाम अमित है में 23 साल का हूँ और जम्मू से हूँ में आपको अपना अनुभव बता रहा हूँ यह कहानी मेरी मामी के बारे में है जिनका नाम पल्लवी है जो बहुत ही सुन्दर है दोस्तो आप तो जानते ही हो कोई औरत कितनी भी शरीफ क्यों ना हो लेकिन अपनी सेक्स की प्यास बुझाने के लिये वो कुछ भी कर सकती है ऐसा ही कुछ मेरी मामी ने भी किया आओ अब में आपको कहानी के सही पहलू की और ले चलता हूँ यह बात आज से कुछ महीने पहले की है जब मेरे छोटे मामा मामी हमारे घर आये हमसे मिलने दोस्तों में आपको बता दूं की मेरे मामा जी कनाडा में काम करते और वो साल में एक बार ही घर वापस आते हैं उनको ग्रीनकार्ड ना मिलने के कारण वो मामी को साथ नही ले जा सकते है.
जब मामा मामी हमारे आये तो सब ने खूब सारी बातें करी और फिर कुछ देर बाद मामा जी मामी को हमारे यहाँ ही छोड़ कर अपने कुछ दोस्तो से मिलने चले गये दोपहर काफ़ी हो चुकी थी और सब आराम कर रहे थे लेकिन में जगा हुआ था और मामी भी मामा जी का इंतज़ार कर रही थी थोड़ी देर बाद मामी मेरे पास आकर बेठ गई और हम एक दूसरे से बातें करने लगे मामा जी की शादी हुये अभी कुछ महीने ही हुये थे और मामा जी अपनी शादी के एक हफ्ते बाद ही कनाडा वापस चले गये थे बातों बातों में मैने मामी से पूछा की आज कल क्या चल रहा है तो मामी कहने लगी क्या चलना है तेरे मामा के पास तो मेरे लिये टाइम ही नही है ना दिन और ख़ास कर रात के लिये तो है ही नही और फिर कुछ दिनो बाद चले जायेगे में फिर रह जाउंगी.
में समझ गया था की मामा मामी से प्यार करने के लिये टाइम नही निकाल पाते और मामी को प्यार की बहुत ज़रूरत है फिर मामी ने मुझे पूछा की तेरी कोई गर्लफ्रेंड है तो मैने कहा हाँ हैं उन्होने कहा उसकी कोई फोटो है तो मैने कहा हाँ मेरे मोबाइल में है और मैने उन्हे अपना मोबाइल दे दिया देखने के लिये जब उन्होने फोटो देखने के बाद मेरे मोबाइल की वीडियो देखी तो उसमे ब्लू मूवी थी.
मामी ने वो चालू कर दी और मुझसे पूछने लगी ये क्या है तो में चुप रह गया फिर उन्होने मुझसे पूछा की क्या तूने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कभी कुछ किया है तो में कुछ नही बोला फिर वो बोलने लगी की शरमाने की कोई ज़रूरत नही है तुम मुझे सब कुछ बता सकते हो में कभी किसी को कुछ नही बताउंगी ये सुनकर मैने भी हिम्मत से बोल दिया की करना तो बहुत कुछ चाहता हूँ लेकिन कभी कुछ कर नही पाया तो मामी कहने लगी एक तुम हो जिसे चान्स नही मिलता और दूसरी में हूँ जिसके पास चान्स तो है लेकिन कोई कुछ करता नही मामी की इन बातों से में समझ गया था की मामी मुझे ओपन इन्विटेशन दे रही है और फिर मामी ने मुझे अपने पास बेठने को बोला और मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगी और मेरी जांघ पर और कहने लगी की हम दोनो की ज़रूरत सेम ही है क्यों ना हम एक दूसरे की मदद करें तो मैने कहा कैसे तो कहा किसी को बताओगे तो नही मैने कहा नही में कोई बच्चा थोड़े हूँ वो कहने लगी तभी तो मदद माँग रही हूँ.
यह कहकर उन्होने मुझे मेरी गाल पर किस कर दिया और में देखता ही रह गया और फिर उन्होने मुझे कहा की तू भी मुझे किस कर और मैने भी उनके गाल पर किस कर दी फिर वो बोली तुम गाल पर नही लिप्स पर किस करों में रुका रहा वो बोली डरो मत ये सुनकर मैने उनके लिप्स पर किस कर दी क्या रसीले होंठ थे अब उन्होने अपने होंठ मेरे होंठों पर रखे और मुझे बड़े प्यार से किस करने लगी मुझे बहुत मज़ा आ रहा था क्या नरम रुई जैसे होंठ थे अब में भी उनका साथ देने लगा और उनका एक हाथ अब मेरे लंड पर था और वो उसे मेरी पेन्ट के उपर से ही मसल रही थी.
अब वो रुकी और मुझे पूछने लगी की कोई ऐसी जगह है जहाँ कोई ना आता हो तो मैने कहाँ हाँ हमारा छत वाला बाथरूम कोई उसे यूज़ नही करता तो वो बोली वहाँ चलो और में उन्हे बाथरूम में ले गया और उन्होने मुझे कहा की दरवाजा बंद कर दो और मुझे अब वो फिर किस करने लगी और एक हाथ से मेरे 7 इंच लंबे लंड को सहलाने लगी मुझमे इतनी हिम्मत नही हो रही थी की में खुद कुछ करूँ क्योकी में रिश्ते में उनके बेटे जैसा था फिर वो बोली की कुछ मत सोचो और जो मन करता है वो करों ये सुनकर में टूट पडा में उनकी चूचियों को उनके सूट के उपर से ही दबाने लगा थोड़ी देर बाद उन्होने मेरा लंड मेरी पेन्ट से बाहर निकाल दिया और वो उसे अपने मुँह में लेकर चूसने लगी दोस्तो क्या बताऊँ ऐसा लग रहा था जैसे में जन्नत में हूँ.
वो मेरे लंड को एक्सपर्ट रांड की तरह मस्त चूसे जा रही थी तभी अचानक हमें मामा की गाड़ी की आवाज़ आई और वो मुझे कहने लगी आज तो तुम मेरी चूत नही मार पाओगे लेकिन अपना सफेद शहद मेरे मुँह में ही छोड़ दो तो में अपना लंड ज़ोर ज़ोर से उनके मुँह के अंदर बाहर करने लगा और 2-3 मिनिट में मैने अपना पानी उनके मुँह में ही छोड़ दिया और हम जल्दी से नीचे चले गये थोड़ी देर बाद मामा मामी दोनो चले गये दो दिन बाद मामा भी कनाडा वापस चले गये और उनके जाते ही मामी ने मुझे फोन किया की में उनके वहाँ रहने को आ जाऊं और में अगले ही दिन वहाँ चला गया शाम तक तो में सबके साथ बाते करता रहा और रात को खाने के बाद मामी ने मुझे कहा की वो अपने कमरे का दरवाजा खुला रखेगी इसलिये जब सब सो जाये तो में उनके कमरे में आ जाऊं.
रात के 12 बजे तक सब सो गये थे और में मौका देखते ही मामी के कमरे में चला गया और कमरे में जाकर मैने देखा टेबल पर एक वाइन की बोतल पड़ी है और दो ग्लास पड़े हुये हैं और दूसरी और मामी खड़ी थी जिन्होने सेमी ट्रान्सपरेंट नाइट गाउन पहन रखा जिसमे उनकी ब्लेक कलर की ब्रा और पेंटी साफ दिख रही थी मामी मेरे पास आई और कहने लगी चलो एक एक पेक मारते हैं और उन्होने ने दो पेक बना दिये और हम दोनो ने पी भी लिये अब मामी कहने लगी की तुम थोड़ी वाइन अपने लंड पर डालों में उसे चाटूँगी में वाइन अपने लंड पर डालने लगा और वाइन मेरे लंड और बॉल्स से टपक रही थी जिसे मामी गंगा जल की तरह पी रही थी अब वो कहने लगी में अपनी चूत पर वाइन डालूंगी और तुम चाटना में भी वाइन उनकी चूत में से चाटने लगा क्या मज़ा आ रहा था दोस्तो मानो जैसे रस टपक रहा हो.
अब उन्होने वाइन की बोतल एक साइड में रख दी और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी क्या चूस रही थी वो मेरा लंड जैसे लोलीपोप हो और कुछ देर बाद मैने अपना सारा पानी उनके मुँह में ही डाल दिया पर वो मेरा लंड चूसे जा रही थी और थोड़ी देर में ही मेरा लंड फिर से तन गया अब वो कहने लगी की में अपना लंड उनकी चूचियों में रख कर उन्हे चोदू और में ज़ोर ज़ोर से उनके बूब्स को चोद रहा था और जब में झटके दे रहा था तो मेरा लंड उनके होठों को छू रहा था अब में उनकी चूत चाटने लगा जैसे कोई छोटा सा बच्चा मानो ऑरेंज बार चाट रहा हो तो मामी पूरी तरह से और गर्म हो चुकी थी और वो खुद को कंट्रोल नही कर पा रही थी और बोल रही थी की अमित फाड़ दे मेरी चूत तू वो कर दे जो तेरे मामा ने नही किया.
अब तू ही मेरा बलम है तू ही मेरा राजा है बुझा दे मेरी इस चूत की प्यास लेकिन में उनकी चूत चाटे जा रहा था उनकी चूत पूरी तरह से भीग चुकी थी उन्होने ज़बरदस्ती अपनी चूत मेरे से मुँह से हटाई और मेरे होंठों को चूसने लगी में उनकी चूचियाँ को ज़ोर ज़ोर मसल रहा था अब उनसे रहा नही जा रहा और वो कहने लगी और मत तडपा मेरे राजा फाड़ दे मेरी चूत वरना में मर जाउंगी अब में उनकी चूत मारने के लिये तैयार हो गया था मैने उनकी गांड के नीचे तकिया रखा और अपने लंड की टॉप उनकी चूत के होठों पर रख के ज़ोर से एक झटका दिया और मेरा आधे से ज़्यादा लंड उनकी चूत में घुस गया और वो ज़ोर से चिल्लाई मर गई में फट गई मेरी चूत.
मैने एक और झटका मारा पूरा का पूरा लंड उनकी चूत में घुसा दिया और स्टार्टिंग से ही पूरे जोश से उनकी चुदाई स्टार्ट कर दी मामी दर्द से चिल्ला रही थी लेकिन में कहाँ रुकने वाला मैने अपनी स्पीड कम नही करी पर मामी थोड़ी देर बाद जरूर सभल गई और सिसकारियां लेने लगी हह्ह्ह्हह फाड़ दे फाड़ दे ओह अया और तकरीबन 45 मिनिट की चुदाई के बाद में उनकी चूत में ही झड़ गया इस बीच मामी 3 बार पानी छोड़ चुकी थी जैसे ही मैने लंड बाहर निकाला और उन्होने उसे फटाफ़ट अपने मुँह में डाल लिया और चाटने लगी थोड़ी देर बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और अब मामी कहने लगी की अमित मेरी गांड चोदो और खुद वो डॉगी स्टाइल में हो गई.
मैने अपना लंड उनकी गांड के छेद पर रखा और ज़ोर से झटका मारा पर मेरे लंड का सिर्फ़ टोपा ही अंदर घुसा था मामी फिर से चीख उठी फिर मैने अपना लंड बाहर निकाला और पहले मामी की गांड को ऑयल लगाया ताकि मेरा लंड आसानी से उनकी गांड में घुस जाये और मैने ज़ोर से झटका दिया तो इस बार मेरा आधा लंड उनकी गांड में घुस गया और मैने चुदाई शुरू कर दी मुझे मामी की गांड चोदने में बहुत मज़ा आ रहा था क्योकी वो बहुत ही टाइट थी मैने काफ़ी ज़ोर ज़ोर से मामी की गांड की चुदाई की और कुछ देर बाद उनकी गांड में ही झड़ गया और हम दोनो सुबह 5 बजे तक नंगे एक दूसरे के साथ सोये रहे और सुबह उठकर में अपने बिस्तर पर चला गया.
इसके बाद मैने मामी को बहुत बार चोदा जिससे मामी की भी प्यास बुझ जाती और मेरी भी और हम दोनो इससे बहुत खुश थे इसके बाद मैने पल्लवी मामी की मदद से अपनी दो और मामीयों को चोदा और पल्लवी मामी की बहन और उनकी कही सहेलियों को भी चोदा दोस्तों अगर आपको मेरी कहानी अच्छी लगे तो इसे शेयर जरूर करना.