लंड मेरी चूत भाबी की

antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta Chudai Hindi Sex दोस्तों हमारे घर के सामने ही मेरी भाभी रहती थी.. उनका नाम नीतू था और उनकी उम्र 32 साल थी.. लेकिन वो दिखने में 25-26 साल की लगती थी.. वो बहुत ही सुंदर और उनके फिगर का साईज 34-30-36 था.. उनके बूब्स और गांड को देखकर मेरा लंड एकदम खड़ा हो जाता था और वो हमेशा एकदम ढीले ढाले कपड़े पहनती थी.. जिसकी वजह से उनके बूब्स एकदम साफ नजर आते और पूरा उनका आकार दिखाई देता और में हमेशा उन पर नजर रखता और उनके नाम की मुठ मारा करता था. उनके पति अपनी नौकरी की वजह से अधिकतर समय बाहर ही रहते थे और वो 6 महीने में एक सप्ताह के लिए आते और फिर वापस चले जाते थे.

तो भाभी को कुछ काम हो या कहीं जाना हो तो वो मुझसे ही कहती थी और एक बार भैया के नौकरी पर जाने के बाद भाभी घर पर आई और मम्मी से बोली कि मुझे रात को घर पर अकेले सोने से बहुत डर लगता है.. क्या आप अमित को मेरे घर पर सोने के लिए भजे सकती हो? तो मम्मी ने उनसे कहा कि ठीक है और मम्मी ने मुझसे कहा कि में रात को उनके घर पर सोने चला जाऊँ. तो में एकदम बहुत खुश हुआ.. क्योंकि आज मेरे वो सारे सपने पूरे होने वाले थे.. जिन्हें में बहुत दिनों से देख रहा था और में एकदम से हाँ कहकर तैयार हो गया और रात को खाना खाने बाद में उनके घर पर चला गया. मैंने उनके घर पर पहुंचकर दरवाजा खटखटाया और उन्होंने आकर दरवाजा खोला.. में उन्हे देखकर एकदम होश खो बैठा.. वो एकदम सेक्सी लग रही थी. उनके बूब्स कपड़ो से बाहर आने को तड़प रहे थे.

तभी उन्होंने एकदम मुझे छुआ और कहा कि किस दुनिया में पहुंच गए? चलो अंदर चलकर सब कुछ देख लेना. तो में उनके आगे आगे अंदर आ गया.. लेकिन उनकी बातों को सोचकर मन ही मन बहुत खुश होने लगा.

फिर कुछ देर बाद हमने साथ में बैठकर टीवी देखी.. उन्हे सीरियल बहुत पसंद है.. तो उन्होंने मुझसे बोला कि तुझे जो देखना है वो लगा ले में तो सीरियल्स ही देखती हूँ वरना तू बोर हो जाएगा.. यह ले रिमोट और अपनी पसंद का चेनल लगा दे. तो मैंने उनके हाथ से रिमोट लिया और मेरा हाथ उनके कोमल हाथ से छू गया और मुझे मन में एक अजीब सा अहसास आने लगा. फिर जब में चेनल चेंज कर रहा था कि एक चेनल पर किस वाला सीन आ रहा था और फिर मेरे हाथ से रिमोट नीचे गिर गया. तो भाभी मेरी तरफ देखकर मुझसे बोली कि क्या हुआ और उन्होंने मेरी तरफ एक सेक्सी स्माईल की और अब मुझे समझ में आ रहा था कि भाभी मुझसे कुछ चाहती है.. लेकिन में कुछ नहीं बोला.

में भाभी से बोला कि आप सीरियल देखो में मेरे मोबाईल पर गाने सुनता हूँ.. तो वो बोली कि यहाँ पर बैठकर ही सुनो और उस समय करीब 11.30 बज गये थे. तभी उन्होंने मुझसे कहा कि तुझे देखना है तो यह ले रिमोट.. वरना बंद करके सो जाते है. तो मैंने कहा कि ठीक है और फिर वो उठकर सीधी बाथरूम में चली गई और वो कुछ देर बाद बाहर आई.. वो क्या लग रही थी? काले कलर की नाईटी में उनका दूध जैसा सफेद बदन.. मेरा तो मन कर रहा था कि उन्हे पकड़कर खा जाऊँ.

फिर उन्होंने मुझसे कहा कि तुझे भी फ्रेश होना हो तो हो जा.. मैंने कहा कि में फ्रेश ही हूँ और उसने यह बात सुनते ही मुझे एक और स्माईल दी और कहा कि चलो अब सो जाते है. फिर हम लोग एक ही बिस्तर पर लेट गए.. लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी और में चुपके से उन्हे देख रहा था. मैंने महसूस किया कि उन्हे भी नींद नहीं आ रही थी.. वो बस आंखे बंद करके लेटी हुई थी. तो मैंने पूछा कि भाभी क्यों जाग रही हो?

वो बोली कि तू क्यों जाग रहा है और मेरी तरफ मुहं करके एकदम मुझसे चिपककर लेट गई.. जिसकी वजह से मुझे उनकी गरम गरम सांसे महसूस हो रही थी. तो वो बोली कि मुझे बहुत डर लग रहा है और मैंने सही मौका देखकर उनको अपनी बाहों में ले लिया और बोला कि में हूँ ना.. में आपको कुछ नहीं होने दूँगा और यह बात सुनते ही भाभी ने मुझे गाल पर किस किया और बोली कि तू मेरा कितना ख्याल रखता और मेरे पूरे शरीर में एक करंट सा दौड़ रहा था और मेरे लंड ने भी अपना आकार बदलना शुरू कर दिया.

तो मैंने उन्हे भी माथे पर किस किया और बोला कि अब सो जाओ.. तो वो बोली कि नहीं हम थोड़ी देर बात करते है और वो मुझसे पूछने लगी कि तुम्हारी कितनी गर्लफ्रेंड है और क्या तुमने कभी कुछ किया है? तो मैंने कहा कि नहीं मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है और मैंने कभी कुछ नहीं किया है तो और ज़ोर से चिपक गयी और बोली कि में तुम्हे बहुत प्यार करना चाहती हूँ. क्या तुम भी मुझे प्यार करोगे? और उन्होंने मेरे लंड पर हाथ रख दिया.. लेकिन में कुछ बोल नहीं पाया. मैंने उनको होंठो पर किस किया और भाभी ने मेरे मुहं को पकड़कर एक फ्रेंच किस किया.

यह सब 30 मिनट तक चला और मैंने कहा कि भाभी तुम बहुत हॉट हो और अब वो मेरे सारे बदन को किस कर रही थी और मेरे कपड़े खोल रही थी और मैंने उन्हे जल्दी से 69 पोज़िशन में लिया और उनकी चूत एकदम शेव थी.. लगता था कि उन्होंने आज ही पूरा प्लान ही किया था. तो मैंने उनकी चूत को बहुत किस किए और अब में अपनी जीभ उनकी चूत के अंदर बाहर करता रहा और वो मेरे लंड को जो कि 7 इंच लंबा और 3 मोटा है उसे वो लोलीपोप की तरह चूसे जा रही थी. यह काम करीब 25 मिनट तक चला. फिर भाभी बोली कि चूस और ज़ोर से चूस इसे.. पी जा मेरा सारा पानी और वो झड़ गई और फिर भी उनका जोश खत्म नहीं हुआ.. वो फिर भी मेरे लंड को चूसे जा रही थी और में उनकी चूत को.

तो अब मेरी बारी थी.. दस मिनट के बाद मैंने कहा कि में झड़ने वाला हूँ.. तो भाभी और ज़्यादा जल्दी जल्दी मेरे लंड को चूसने लगी और मेरे सारे वीर्य को निगल गई और फिर बोली कि मुझे बहुत मज़ा आया और फिर से मेरे लंड को मुहं में लेकर चूसने लगी और करीब दस मिनट के बाद मेरा लंड फिर से तनकर खड़ा हो गया और अब में उनकी मेक्सी को हटाकर उन्हे पूरे बदन पर चूम रहा था और में उनकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा. तो वो बोली कि अब क्यों तड़पा रहा है अपनी भाभी को.. तूने आज पहली बार मुझे संतुष्ट किया है.. वरना में इतने सालों से बहुत बैचेन थी और चल अब इसे मेरी चूत के अंदर डाल दे.. लेकिन थोड़ा धीरे डालना.. वरना मुझे दर्द होगा.

फिर मैंने लंड को चूत पर रखा और एक ज़ोर का धक्का मार दिया.. तो दो इंच लंड अंदर चला गया और वो एकदम चिल्ला उठी और मुझे खींचकर अपने होंठ मेरे होंठो पर लगा दिए. तो मैंने सही मौका देखकर एक और जोरदार झटका लगाया और अब इस बार मेरा 7.5 इंच का लंड उसकी चूत में था और वो दर्द से एकदम कराह उठी और मेरे होंठो पर चूमना और चूसना शुरू किया. तो में उनके बूब्स को दबाए जा रहा था और स्मूच भी किए जा रहा था और थोड़ी देर बाद उनका दर्द थोड़ा कम हुआ और अब वो भी उसकी गांड को उछाल उछालकर मेरा साथ दे रही थी और 15 मिनट ऐसे ही चला.

फिर वो मेरे ऊपर बैठी और अपनी चूत पर लंड को सेट किया और फिर मेरा लंड फिसलता हुआ उसकी चूत में चला गया और अब वो मेरे लंड के ऊपर नीचे होने लगी. तो में भी नीचे से ज़ोर ज़ोर से धक्के देने लगा.. जिसके कारण हम दोनों बहुत थक गए थे और हाफ़ रहे थे. तो कुछ देर बाद वो बोली कि में अब झड़ रही हूँ ओहह्ह्ह्ह माँ अह्ह्ह्हह भगवान तुम बहुत अच्छे हो. तो में बोला कि में तुम्हे बहुत चाहता हूँ डार्लिंग.. तो वो बोली कि में भी.. चोदो मुझे और चोदो अह्ह्ह उफफ्फ्फ्फ़ और ज़ोर से चोदो ऊओह तू आज फाड़ दे अपनी भाभी की चूत को और वो झड़ गई. तो मैंने उन्हे नीचे लेटाया और में उनके ऊपर आ गया और ज़ोर ज़ोर से झटके देने लगा. करीब 20 मिनट के बाद मैंने कहा कि में भी झड़ने वाला हूँ.

तो उसने कहा कि मेरे मुहं में ही छोड़ दे और में उनके मुहं में ही अपना वीर्य डालने लगा और हम लोग ऐसे 30 मिनट तक लेटे रहे और फिर भाभी मेरे लंड को चूसने लगी और बोली कि इस बार मेरी गांड में डालना और मैंने उनकी गांड में बहुत सारा तेल लगाया और लंड को बहुत मेहनत से गांड में गांड में डाला.. दोस्तों उनकी गांड बहुत टाईट थी.. इसलिए लंड हर बार फिसलकर बाहर निकल रहा था. तो मैंने उसे बहुत मुश्किल से उनकी गांड में डाला और उनकी कमर को पकड़ कर ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा.. यह चुदाई लगातार 15 मिनट तक चली और फिर में उनकी गांड में झड़ गया और उनके बूब्स पी रहा था.. मुझे बड़ा मज़ा आ गया और फिर दूसरे दिन भी हमने 4 बार चुदाई का मजा लिया.