दोस्ती में हो गयी चूत की और लंड की मस्ती

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और में वड़ोदरा गुजरात से हूँ. antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta Chudai Hindi Sex में दिखने में सुंदर हूँ तो गर्ल्स भी मेरी तरफ जल्दी ही आकर्षित हो जाती है, लेकिन में थोड़ा शर्मिला हूँ तो मैंने अभी तक किसी लड़की को रेस्पॉन्स नहीं दिया. अब में आपका समय ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी कहानी बताता हूँ. ये बात अभी 15 दिन पहले हुई जब में अपने फ्रेंड से मिलने अहमदाबाद गया था. में वैसे सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूँ, और में खुद अपने पैरो पर खड़ा हूँ. मैंने अपनी पढाई पुणे में पूरी की थी और उसके बाद मैंने एक कंपनी में जॉब की, वहाँ पर मेरी कई लड़कियों के साथ जान पहचान हुई और मेरी शर्म भी धीरे-धीरे गायब हो गयी.

अब वहाँ पर एक लड़की थी, जो काफ़ी अच्छी थी और वो मेनेजमेंट में काम कर रही थी और मेरा उससे मिलना हुआ वो क्या सुंदर और मस्त लग रही थी? उसका फिगर मेरे हिसाब से 36-26-34 होगा. मुझे वो काफ़ी अच्छी लगी और उस टाईम ना तो मेरे दिमाग़ में कोई ग़लत ख्याल था और ना ही कुछ और था. फिर हमने 3 महीने तक साथ में काम किया और उसके बाद में वड़ोदरा में घर वापस आ गया, और वो राजस्थान की उदयपुर की रहने वाली थी और वो भी वापस अपने घर चली गई. उसके बाद हमारी फ़ेसबुक और व्हाट्सअप पर थोड़ी-थोड़ी बातें होती रहती थी और उसके घरवाले उसकी शादी करवाना चाहते थे और उसे शादी लेट करनी थी. फिर वो एम.बी.ए के लिए अहमदाबाद आ गयी. अरे में आपको उसका नाम तो बताना ही भूल गया, उसका नाम सीमा था, अब में वापस से स्टोरी पर आता हूँ.

उसने मुझे एक दिन कॉल किया और बोली कि में अहमदाबाद में एम.बी.ए की पढाई के लिए आ रही हूँ तो वो मुझसे पूछने लगी कि कहाँ रहना सही होगा? और भी बहुत कुछ पूछने लगी. अब वो वहां पर नई थी तो उसे थोड़ा टेन्शन भी था. फिर उसने बाद में एक फ्लेट किराए पर लिया और अपना सारा सामान सही सेट कर दिया.

मैंने उससे कहा कि में रविवार को फ्री हूँ, क्या तुम फ्री हो? फिर उसने कहा ठीक है आ जाओ. फिर में वड़ोदरा से सुबह 7 बजे की ट्रेन से अहमदाबाद के लिए निकला और फिर में वहाँ पर 10 बजे पहुंचा और फिर उसके बाद में बस से सीधा उसके फ्लेट तक पहुंचा. जब तक 12 बज गये थे और अब उसको अभी खाना बनाना था और फिर वो बातें करने लगी, क्योंकि हम 1 साल के बाद मिल रहे थे और फिर हमने पुरानी बातें और अभी की बातें की. अब वो घर से अहमदाबाद शिफ्ट होने पर थक गयी तो वो सुबह लेट उठी और उसे नहाना भी बाकी था तो अब वो नहाने चली गयी.

फिर में उसके लेपटॉप में मूवी देखने लगा तो फिर मुझे आइडिया आया तो मैंने बाथरूम के होल से देखा, तो वो पूरी नंगी थी, लेकिन मुझे ठीक से दिखाई नहीं दे रहा था तो में वापस से मूवी देखने लगा. इतने में वो नहाकर आ गयी और फिर बाद में मैंने उससे पूछा कि और मूवी कहाँ है? तो वो सीधा बाथरूम से आकर मेरे पास आई और बोली कि मूवी यहाँ पड़ी है. फिर मैंने अपनी छोटी हार्ड ड्राईव निकालकर मूवी कॉपी करना शुरू किया और वो कपड़े चेंज करने चली गई. फिर में भी उसके पीछे-पीछे गया तो उसने कहा कि क्या कर रहे हो? तो में बहाना बनाकर सीधा किचन की तरफ चला गया और पानी पी लिया. फिर वो कपड़े चेंज करके आई और फिर मैंने उससे बातें करनी शुरू कर दी तो मैंने उससे कहा कि 1 साल में कोई बॉयफ्रेंड बनाया या नहीं? तो वो बोली कि नहीं सिर्फ़ बहुत सारे दोस्त है. तो मैंने उससे कहा कि तुम तो शादी करनी वाली थी तो अब तुम एम.बी.ए क्यों करना चाहती हो? तो वो बोली कि अभी दोस्तों के साथ मज़े कर लेते है क्योंकि बाद में कुछ नहीं मिलेगा.

अब तो में चौंक गया और मुझे लगा कि इसने पहले भी सेक्स किया हुआ है तो मैंने उससे कहा कि तो मज़े किस टाईप के? तो वो बोली सब टाईप के तो मैंने कहा कि और? तो उसने मेरी बात काट दी. फिर मैंने उससे कहा कि तुमको मूवी चाहिए तो वो हाँ बोली और मैंने सारी मूवी उसके लेपटॉप में डाल दी. फिर वो किचन में गयी तो मैंने पॉर्न मूवी चालू कर दी तो वो अचानक से पीछे आ गयी और बोली कि ये भी डाल देना. मैंने कहा कि पॉर्न मूवी डालने का क्या फायदा है? तो वो बोली कभी काम आ जाता है.

मैंने कहा कि अगर तुम चाहों तो में मूवी का मज़ा सच में दे सकता हूँ, तो वो थोड़ा शरमाई और वापस अपने काम पर लग गयी. अब वो कपड़े धो रही थी तो में बोर हो रहा था. फिर में उसके पास गया और कहा कि बोलो क्या तुम्हें सच वाला अनुभव चाहिए? तो वो कुछ नहीं बोली. फिर मैंने सोचा कि अब में इसके साथ सेक्स करके ही रहूँगा. फिर मैंने उसके ऊपर पानी डाल दिया तो वो गीली हो गयी और गुस्सा होकर बोली कि अभी एक जोड़ी कपड़े ही बचे थे वो भी गीले कर दिए तो मैंने सिर्फ स्माइल दी.

फिर वो कपड़े चेंज करने गयी और फिर वो सिर्फ़ रूमाल में आई, वो क्या मस्त लग रही थी? फिर मैंने उससे कहा कि थोड़ी देर में मेरी ट्रेन है और में वापस जाने वाला हूँ तो तुम बाद में कपड़े धो लेना. फिर उसने कहा ठीक है और मैंने सेक्सी मूवी चालू कर दी. अब वो थोड़ा शर्मा रही थी और फिर में उसके पास जाकर बैठ गया और उसके बूब्स पर धीरे से हाथ रखा तो वो बोली कि क्या कर रहे हो? तो मैंने कुछ जवाब नहीं दिया और फिर मैंने उसके बूब्स को सहलाना चालू कर दिया. अब उसकी सांसे तेज़ हो रही थी और फिर मैंने उसका रूमाल खींच लिया तो अब वो मेरे सामने ब्रा और पेंटी में थी. फिर उसने कहा कि मुझे रूमाल वापस दो तो मैंने मना कर दिया और में फिर से उसके बूब्स दबाने लगा. अब वो और ज़ोर से आहें भरने लगी थी.

फिर मैंने उसकी ब्रा निकाल दी और अब वो मूवी देख रही थी. फिर मैंने उसके बूब्स को चूसना चालू किया तो अब वो और आहें भरने लगी और मैंने उसकी पेंटी पर अपना हाथ रखा तो वो मना करने लगी, लेकिन फिर मैंने उसकी चूत को सहलाना चालू किया तो वो मना नहीं कर पाई और अब उसे भी मज़ा आने लगा था. अब में अपने कपड़े उतारने लगा और अंडरवियर में आ गया.

फिर मैंने उसका हाथ अपने लंड पर रखवा दिया तो वो चौंक गयी कि ये इतना बड़ा और लंबा है, कैसे होगा? तो मैंने कहा तुम बस देखती जाओ. फिर उसके बाद में उसकी चूत को चाटने लगा और वो मेरे लंड को चूसने लगी. अब हम 69 की पोजिशन में थे और अब वो 2 बार झड़ चुकी थी. फिर आखिरकार वो मुझे कहने लगी कि अब जल्दी से डाल दो ज़्यादा देर मत करो तो मैंने अपना लंड ज़ोर से उसकी चूत में डाल दिया, तो वो शॉक हो गयी और कहा कि निकालो इसे बाहर, मुझे बहुत दर्द हो रहा है.

फिर मैंने धीरे-धीरे हिलना चालू किया तो अब उसको भी मज़ा आने लगा तो मैंने ज़ोर-ज़ोर से उसकी चुदाई की. और अब वो भी खुश होकर बोली कि मैंने पुणे में एक दोंस्त से चुदवाया था, तब से में प्यासी थी और अब जाकर मुझे आराम मिला है और बोली कि अब में जब बोलूँ तब तुम अहमदाबाद आना और मेरी चूत की प्यास बुझाना.

फिर मैंने काफ़ी देर तक सेक्स किया और फिर कुछ देर बाद में झड़ने वाला था तो उसने कहा कि मेरी चूत में ही डाल दो. फिर मैंने भी वैसा ही किया और अब उसकी प्यास बुझ गयी थी और मेरा भी काम हो गया था. अब शाम हो चुकी थी तो में नाश्ता बाहर से ले आया और फिर हमने नाश्ता किया और उसके बाद मैंने उसे उस पूरी रात में 3 बार चोदा और फिर मैंने हर तीन दिन में वहाँ उसके घर जाकर उसकी खूब चुदाई की.