अंग्रेज की चुदाई देसी स्टाइल में

हेलो फ्रेंड, मेरा नाम राकेश है और मैं नॉएडा में रहता हु. antarvasna antarvassna Indian Sex Kamukta Chudai Hindi Sex आज आपको अपनी एक सच्ची स्टोरी सुनाना चाहता हु.

ये कहानी आज से दो साल पहले ही है. ऐसे ही इन्टरनेट से मेरी एक दोस्त बनी फिलिपीन्स की. उसका नाम शेली था. हम दोनों रोज़ नेट पर बातें किया करते थे. कभी-कभी तो विडियो चैट भी करते थे. ऐसे ही बात करते-करते एक दिन सेक्स पर बात होने लगी. तो मैने मजाक में पूछ लिया, क्या तुम वर्जिन हो. वो हँसने लगी और कहा – कि वो २२ साल की है और यहाँ कोई वर्जिन नहीं रह सकता इतने साल की उम्र तक. तो मैने मैने उससे पूछा – तुमने अपनी वर्जिनिटी कब लूज की थी. उसने कहा, की वो जब १८ साल की थी. बस ऐसे ही बातें चलती रही और वो विडियो चैट पर थी. उसने कहा, कि मेरा लंड देखना है और मैने कहा – ठीक है और पहले अपने बूब्स दिखाने पड़ेंगे. तो वो झट से मान गयी ओत अपने टॉप उतार दी. उसने अन्दर कुछ भी नहीं पहना हुआ था और उसके दूध मानो जैसे गुलाब से गुलाबी देखते ही मुह में पानी आ गया. मैने कहा – “तुम तो बड़ी सेक्सी हो”. तो उसने मचलते हुए अपने दूध छिपा लिए और मेरा लंड देखने की जिद करने लगी.

मैने भी देर नहीं करते हुए उसे अपना ७ इंच का लंड दिखा दिया और हिलाने लगा. वो बोली और जोर से हिलाओ और अपने मम्मे मसलने लगी और मैने कहा, नहीं पहले अपनी चूत के दर्शन करवाओ; तो वो नानुकर करने लगी. लेकिन, मेरे ज्यादा जोर देने पर वो पूरी नंगी हो गयी और अपनी प्यारी से चूत के दर्शन करवा दिए. क्या बताऊ दोस्तों प मैने जितनी चूत मारी आजा तक, सबसे प्यारी थी ये वाली. बिलकुल गुलाबी, एक भी बल नहीं. एक दम मलाई जैसी. मन तो किया किबस उसे चूसता रहू और गुलाबी से लाल कर दू पर वो कैम पर थी बस अपना कैम सेक्स शुरू हो गया था और वो अह्ह्ह्हह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ऊऊऊऊऊ की आवाज़ निकालने लगी और चूत में ऊँगली करने लगी. वो पागल हुई जा रही है और ऐसे करते-करते हम दोनों झड़ गये.

उसके बाद उसने मुझे खुश खबर दी, कि वो अपने दोस्तों के साथ इंडिया आ रही है. इसके बाद हम रोज़ ये डीसाइड करने लगे, कि हम क्या-क्या करेंगे, किसे मिलेंगे, कैसे चुदाई करेंगे. वो मेरे लंड के साइज़ को लेकर बहुत खुश थी और जल्दी से जल्दी चुदना चाहती थी. आखिर वो दिन आ ही गया, वो इंडिया आई और आते ही मुझे कॉल किया(अगर आप सिर्फ फीमेल भी मुझे कॉल करना चाहते है किसी भी काम के लिए, तो मेल कीजिये). आखिरकार हम ने प्लान बनाया आगरा में मिलने का. वो अपने सारे दोस्तों के साथ आगरा में रुकी थी. मैं भी आगरा चले गया. उसने मेरे नाम से पहले से ही उसी होटल में डिफरेंट फ्लोर पर कमरा बुक करवा रखा था. मैं जब उससे मिला, दोस्तों क्या बताऊ – वो जैसी कैमरे पर दिखती थी उससे लाख गुना ज्यादा सुंदर थी. हम ने खूब बातें की और फिर वो अपने फ्रेंड के साथ घुमने चली गयी और उसने मेरे मोबाइल पर मेसेज किया, रात के लिए तैयार रहना. मैं खुश हो गया और रात का इंतज़ार करने लगा.

मैने बाजार से एक सेक्सी सा रूम स्प्रे ले लिया और कंडोम भी खरीद लिए. मैं घड़ी देखने लगा और देखते-देखते मेरी आँख लग गयी. अचानक १२ बजे मेरे डोरबेल बजी और मेरी आँख खुली. मैने दरवाजा खोला, तो वो मेरे सामने खड़ी थी. मैने उसे अन्दर खीच लिया. मैं दरवाजा बंद ही कर रहा था, कि वो पीछे से मेरे ऊपर कूद पड़ी. उसके मुह से बियर की स्मेल आ रही थी. वो मेरे गले पर किस करने लगी और किस करते-करते दांत भी चूभा रही थी. मैं भी जोश में आ रहा था, मैने उसे गोद में उठाया और लिप किस करने लगा. ऐसा लग रहा था, कि वो सदियों से सेक्स की भूखी हो. उसने मेरे कपडे उतरने शुरू किये और देखते ही देखते नीचे बैठ गयी और मेरा लोअर हटा कर अंडरवियर भी उतार दिया. उसने एक ही झटके में मेरे लंड को अपने मुह में रख लिया और उसे पागलो की तरह चूसने लगी, एकदम लोलीपोप जैसे. वो बोली – ये इतना बड़ा लंड .. वऊव .. खूब मज़ा आएगा तेरे से चुदवाने में. उसने मेरे लंड चुसना शुरू किया और खड़े लैंड पर जीभ फिराने लगी.

मैने भी उसके निप्पल दबाने शुरू किये और उसे भी पूरा नंगा कर दिया. कम रौशनी में भी वो चमक रही थी. मैने उसके हाथो को चुसना शुरू किया. वो बिलकुल लाल गये और उसका शरीर मानो मखमल का कपड़ा हो हाथ में. मैने उसकी चूत देखी, एकदम गुलाबी फूली हुई मानो गुलाबी की कली हो. उसकी चूत गीली हो रही थी, तो मेरी जीभ में पानी आ गया. मैने उसकी चूत को जीभ से सहलाना शुरू किया और वो सिस्कारिया भरने लगी थी अह्ह्ह्हह ओह्ह्हह्ह्ह्ह उम्म्म्मम्म ऊऊऊग ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह गूऊओद्द्द … खूब अन्दर-बाहर किया. हम दोनों बहुत देर तक एक दुसरे को चाट रहे थे. वो तड़पने लगी और बोली – फ़क मी..फक मी…मैने उसकी चूत में हलके से दांत गडा दिए. वो तड़प उठी और मेरे बाल नौचने लगी. मैने उसको गोद में उठाया और बिस्तर पर ले गया. उसके गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया. तभी मेरी नज़ उसके मम्मो पर पड़ी.

मैने थोडा देर उसके मम्मो को चूसा. मज़ा आ गया. क्या बताऊ दोस्तों – वो और भी पागल हो गया और चुदने के लिए तड़प रही थी. मैने भी देर ना करते हुए, अपने लंड को उसकी चूत पर टिका दिया और मुझे लगा वो पहले चूत चुकी है, तो लंड आसानी से चला जायेगा. पर ऐसा नहीं हुआ. लंड बाहर ही रह गया. मैने बोला – ये तो बहुत टाइट है. उसने कहा – इतने बड़े लंड से कभी नहीं चुदी. इसलिए मैने फिर से एक जोरदार झटका मारा और लंड का टिप घुस गया अन्दर; पर उसकी चूत से ब्लड आ गया. वो दर्द से कहराने लगी और मुझसे कसकर लिपट गयी. मैं थोड़ी देर शांत रहा, फिर धीरे-धीरे अन्दर-बाहर करने लगा. वो थोड़ा शांत हुई तो, मैने फिर से एक जोरदार झटका मारा. उसकी चीख निकल गयी और वो छटपटाने लगी. मैने उसके मुह को अपने मुह में भर लिया और किस करने लगा. मैने उसके मम्मे भी दबाने शुरू कर दिया और हलकी-हलकी चुदाई भी जारी रखी. अब उसे आराम मिलने लगा, तो वो थोडा शांत हो गयी, पर उसे बहुत दर्द हो रहा था. थोड़ी देर चुदने के बाद वो साथ देने लगी और गांड उठा-उठा कर चुदने लगी. हम ५ मिनट तक उसी पोज में लेटे रहे.

और फिर वो कुत्तिया बन गयी और मै उसे डौगी स्टाइल में किया. वो मेरे लिए पागल हो रही थी. मेरे लंड से चुदने के थोड़ी देर बाद उसने कहा – वो मेरे बैठ कर मुझसे चुदेगी. मैं पीठ के बल लेट गया और वो मेरे लंड के ऊपर बैठ गयी. देखते- देखते मेरा लंड उसकी चूत में गायब हो गया. वो बड़े मजे से चुद रही थी. मैं उसके बूब्स दबा रहा था और १० मिनट के बाद मेरा निकलने वाला था. मैने कहा – मैं झड़ने वाला हु, वो उठी और मेरे लंड को मुह में ले लिया और चूसने लगी और मैं उसके मुह में झड़ गया.