दिव्या की चुदाई ओर मेरी कमाई

ही मेरा नाम Antarvasna आर्यन है,मैं राजस्थान से हूँ कोई भी आंटी भाभी ओर गर्ल मुझसे मेरी आइडी पर कॉंटॅक्ट कर सकती है ओर अपनी चुत की आग को शान्त कर सकती है.ओर मेरी आगे 25 एअर है ओर मेरे लंड का साइज 8″लोंग ओर 2.5″ मोटा है.मेरी पहली कहानी या आप यहाँ से पड़ स्साकते है जिनके लिंक है.

मेरी पिछली खानी में आप लोगों ने पड़ा की मेरे रूम के सामने रहने वाली राधिका दीदी ने मुझे अपने सुरप्रिसे में नेहा की चुत दिलाई ओर मुझसे नेहा को चुदवाया नेहा चुदने में राधिका से भी तेज दी ओर नेहा को बिलकुल गंदा सेक्स पसंद था ओर अब राधिका ओर नेहा मेरा लंड अपनी चुत में जब मान करता जब ले लेती थी ओर अपनी चुत को शान्त कर लेती थी,

अब मैं आपको अपनी नेक्स्ट जीवन की घटना बता रहा हूँ जो एक घटना संजो या मेरी सर्विसे या लड़की की मजबूरी पर ये मेरी ओर उस लड़की की एक सच्ची कहानी है जो मेरे सात 2014 एप्रिल में या लास्ट मंथ में गति ओर जिसे मैंने पासे ले बदले में चोदा तो अब देर ना करते हुए साइड स्टोरी पर आते है.

ये खानी मेरी ओर दिव्या(नाम चेंज)की है, दिव्या एक हे प्रोफाइल लड़की है उसके अंकल का कूद का बीजनस है जयपुर में ओर दिव्या अपने आंटी बाप की इकलौती लड़की है जो अभी कालेज में पड़ती है ओर फाइनल एअर की स्टूडेंट है दिव्या का फिगर. 34-30-32 का है ओर उसकी आगे 23 एअर की है उसका रंग दूध की तरह गोरा तो नहीं पर फिर भी कोई उसे देकर तो उसका लंड खड़ा करने वाला फिगर ओर रंग है यानि उसका फिगर थोड़ा सा सांवला है झाँसे की बिपसा बसु का है पर दिव्या एक हॉट ओर गरम लड़की है उसके अंकल का कूद का बिज़्नेस होने के कारण दिव्या एक अमीर बाप की औलाद है ओर उसकी आंटी एक कालेज में प्रोफ़ेसर है.

मेरी देसी खानी पर स्टोरी पार्कसियत होने के बाद मेरे पास मेरी आइडी पर एक मैल आया जिसमें लिटा था की मेरा नाम दिव्या है मैं जयपुर से हूँ ओर मेरा फिगर 34-30-32 का है मैं आपसे मिलना चाहती हूँ तो मैंने रिप्लाइ किया की दिव्या इसे भी किया जल्दी है पहले एक दूसरे को जान पहचान तो ले तो दिव्या ने मुझे उसी दिन रात को 10 पीयेम पर ऑनलाइन रहने को बोला ओर रात होने के बाद मैं दिव्या का बाद मैं ऑनलाइन हुआ ओर दिव्या का इंतजार करने लगा तो 10.15 पीयेम पर मैंने दिव्या को मैल किया की किया आप ऑनलाइन है तो क्योंकि मैं बोर हो रहा था तो 1-2 मिनट. बाद उसका रिप्लाइ आया इसे ई आम नाउ ऑनलाइन फॉर मेरी ओर दिव्या की चाट होने लगी दिव्या ने मुझे अपने ओर अपने फॅमिली के बारे में बताया ओर मुझसे मेरे बारे में पूछने लगी ओर मरी चुदाई के बारे में पूछने लगी की आप लड़कियों को कितने अच्छे से चोदते है जब मैं पड़ने के बाद अपनी चुत का पानी नहीं रोक सकी तो तुमसे चोदने वाली लड़की अपना पानी कसे रोक सकती है वो मेरी अब तारीफ करने लगी ओर मैं अपने उप्पर गर्व महसूस करने लगा की कोई मेरी चुदाई की खानी पड़ने से इतना उत्तेजित हो सकता है.

अब मैं ओर दिव्या चाट करते करते बिलकुल सेक्सी चाट करने लगे थे ओर एक दूसरे की बातों से गरम होने लगे फिर मैंने दिव्या से बोला की आप सिर्फ़ चाट करेगी या कुछ ओर भी चाहती है तो दिव्या बोली मैं आपकी स्टोरी पढ़कर दीवानी हो गई हूँ ओर आपसे मिलना चाहती हूँ तो मैं बोला सिर्फ़ मिलना है तो आप जयपुर में कभी भी मिल सकती है क्योंकि मैं जयपुर में ही रहता था रात पर दिव्या भी जयपुर से ही तो मैंने बोल दिया शाम को मैं रोजाना क्षकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकश वहां जाता हूँ तुम भी आ जाना मिल लेंगे क्योंकि मैं रोज शाम को घूमने के लिए जाता था तो दिव्या बोली की मैं आपसे सिर्फ़ मिलना ही नहीं चाहती हूँ बल्कि कुछ ओर भी चाहती हूँ तो मैं बोला की दिव्या तो साफ साफ बोलो की किया चाहिए तुमको ओ दिव्या बोली मैं कई दीनों से लंड के लिए तरफ रही हूँ

मैं तुमसे चुदना चाहती हूँ मैं बोला तो कोई बाय्फ्रेंड होगा ना तेरा तो उससे चुद ले तो वो बोली मैं अपने बाय्फ्रेंड से नहीं चुद सकती क्योंकि उसके सात कालेज में किसी को पता चल गया तो मेरी बहुत बदनामी होगी ओर उसकी भी बदनामी होगी तो मैं बोला किया तुमने एक बार भी नहीं किया अपने बाय्फ्रेंड के सात सेक्स तो दिव्या ने मुझे अपने बाय्फ्रेंड के बारे में बताया की उसने अपने बाय्फ्रेंड के सात एक दो बार किया पर उसके सात मुझे मजा नहीं आता क्योंकि वो ना मेरी चुत चाटे है ओर ना ही मेरी चुत का पानी अंकल है बस कपड़े उतार कर सीधा चुत में लंड पेल देता है ओर अपना काम करके चला जाता है तो मुझे मजा नहीं आता पर पूरा मजा लेना चाहती हूँ मैं बिलकुल हार्डकोर सेक्स चाहती हूँ जो मुझे अच्छा लगता है

तो मैं बोला ओके मैं आपको सोच कर बता दूँगा तो वो बोली आर्यन मुझे पता है की तूमम सेक्स के लिए पासे लेते हो ओर मैं उसके लिए भी तैयार हूँ तो मैं ओके फिर भी दिव्या मैं तुम्हें सोच कर बता दूँगा तो दिव्या मुझसे बोली आयरन प्लीज़ आपसे एक रिकवेस्ट है की प्लीज़ आप मुझे अपने लंड के दर्शन करवा सकते है किया तो मैं बोला की उसके बदले में मुझे किया मिलेगा तो दिव्या बोली की आप मुझे बैंक के एक. नंबर दे तो मैंने दे दिया ओर बोली की ओके कल दिन 12 बजे बाद एक. चख करना ओर रात को 10 पीयेम पर ऑनलाइन मिलना अब मैं सोने के लिए जा रही हूँ ओके तो मैं बोला ओके गुड नाइट ओर हम दोनों सोने चले गये उसके बाद मैं रात भर उसके बारे में सोचता रहा की कसी होगी लड़की किया फिगर है मैं सोच सोच कर ही झड़ गया ओर पता ही नहीं चला की कब मुझे नींद आ गई शुब मेरी नींद मेरे मोबाइल के अलार्म से खुली मैं तैयार हुआ ओर अपनी कंपनी में चला गया ओर दिन में करीब 12 बजे मेरे मोबाइल पर बैंक से मसाज आया और 10,00 क्रेडिट इन युवर एक. नंबर क्षकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकशकश.

अब मैं परेशान हो गया की की किसने पासे डलवाए क्योंकि मेरे दीमक में नहीं रहा की कोई लड़की इतनी जल्दी पासे डलवा सकती है तो मैं अपने कंपनी के पीसी से अपनी आइडी खोली ओर दिव्या को मैल किया की किया आपने मेरे पासे एक में पासे डलवाए है तो आप मुझे बैंक की स्लीप को मेरी आइडी पर अपने मोबाइल साफ पिक लेकर सांड करे ओर पिक. अच्छा हो जिसे मैं आराम से पड़ सुकून उसको डेक्कर ओर अपनी आइडी बंद कर दी अब मैं अपने काम में लग गया ओर शाम को फ्री होकर मैं 6 बजे रूम पर पहुंचा तो मैं लेता हुआ था था मैंने सोचा कियो ना अपनी आइडी चख की जाए की कोई रिप्लाइ आया है या नहीं तो मैंने मैल आइडी खोली ओर चख की जिसमें दिव्या का मैल था ओर उसने मुझे आइडी में बैंक की स्लीप की इमेज बेजी थी मैंने चक्क किया किया मेरा एक. नंबर था स्लीप में ओर डालने वाले की जगह दिव्या का नाम था तो मुझे भी विश्वास हो गया की लड़की अब मुझे कही फसाएगी तो नहीं फिर मैं रात को दिव्या के टाइम पर 10.00 पीयेम पर ऑनलाइन आया ओर मैं ओर दिव्या चाट करने लगे तो कुछ देर चाट के बात मैं दिव्या से फिर सेसेक्शय चाट करने लगे ओर हम फिर से एक दूसरे को गरम करने लगे,

अब मैं ओर दिव्या एक दूसरे के सात बिलकुल कर सेक्सी चाट कर रहे थे ओर फिर मैंने दिव्या से उसको उसका कॅम ओपन करने को कहा तो वो मुझे मना करने लगी तो मैंने संजया की तुम जब मुझसे सेक्स चाट कर सकती हो तो अपना कॅम ओपन कियो नहीं कर सकती काफी समझने के बाद दिव्या मान गई ओर अपना कॅम ओपन करने के लिए राजी हो गई फिर मैंने दिव्या को ग-टॉक से सिडेव चाट शुरू कर दी जब दिव्या ने अपना कॅम खोला तो मैं दिव्या को देखता ही रही गया एक दम फिट सेक्सी शरीर की मलिक दिव्या आज मुझे अपनी किस्मत पर गर्व हो रहा था की दिव्या जसी लड़की भी मेरे लंड की पियासी हो सकती है पर दिव्या ने उस टाइम अपने कपड़े पहने थे

तो मैंने दिव्या को अपने कपड़े उतरने के लिए बोला ओर दिव्या ने सबसे पहले अपनी थी-शर्त उतरी उसने नीचे कोई ब्रा नहीं पहनी थी मैंने दिव्या के 34 के गोरे बूब्स को कॅम के सामने करने के लिए बोला तो दिव्या ने ऐसा ही किया ओर मुझे अपने बूब्स को दिखाए लगी उसके बूब्स मस्त थे उसके बूब्स देखते ही मेरे लंड पूरा टाइट हो हो गया ओर अकड़कर खंबा बन गया फिर दिव्या ने मुझे अपने कपड़े उतरने के एल;इए बोला तो मैं जल्दी से नंगा हो गया हो गया ओर दिव्या को अपना 8″ इंच लोंग ओर 3″ इंच मोटा लंड दिखाया तो दिव्या मुझे बोली आर्यन तुम्हारा लंड तो मस्त है तुम बहुत लक्की हो ओर तुमसे चुदने वाली लड़क भी लक्की हिया तो मैंने दिव्या से बोला अब तो तुम भी लक्की हो दिव्या क्योंकि तुम भी अब मेरे लंड से चुदने वाली हो तो दिव्या शर्मा गई ओर मुझे बोली आर्यन प्लीज़ इतना गंदा मत बोलो मेरी चुत में कुछ हो रहा है.

उसके बाद मैंने दिव्या को उसकी कपड़े उतारने को बोला तो दिव्या ने अपनी कपड़े उतरी उसने नीचे से एक वाइट पैंटी पहनी थी मैंने दिव्या को कॅम को चुत पर करने के लिए बोला तो दिव्या ने ऐसा ही किया ओर मुझे अपने कॅम से पैंटी को दिखाने लगी दिव्या की पैंटी गीली हो चुकी थी ओर उसकी चुत के उप्पर से एक बड़ा सा धक्का बन गया था फिर मैंने दिव्या को पैंटी उतरने को बोला तो दिव्या ने अपनी पैंटी उतरी ओर मुझे कॅम से अपनी चुत दिखाने लगी मैंने दिव्या की चुत देखी तो मानो मुझे कुछ मिल गया किया चुत थी एक दम लाल ओर उसकी भर की तरफ निकली फूली हुई चुत ने मुझे पागल कर दिया फिर मैंने दिव्या को अपनी चुत से खेलने के लिए बोला तो दिव्या ने अपनी एक फिंगर ओ चुत के अंदर डाला ओर उसे अंदर भर करने लगी ओर मैं अपने लंड को हिलने लगा हम एक दूसरे के सात अब कॅम सेक्स करने में मस्त थे दिव्या पूरी तरह से अपनी चुत ए अंगुली कर रही थी ओर उसके मौह से सिसकियां निकल रही थी अब उसका एक हाथ उसके बूब्स पर था ओर एक हाथ चुत पर था फिर 10 मिनट बाद दिव्या का शरीर अकड़ने लगा ओर दिव्या की चुत से पानी निकल गया अब उसकी चुत ओर भी मस्त लग रही थी

ओर लाइट ओर उसकी चुत के पानी के कारण चंक रही थी फिर मैंने दिव्या को अपनी अंगुली को चुत से निकालने के लिए बोला तो दिव्या ने निकल ली ओर मैंने उसको अपनी अंगुली को चाटने के लिए बोला तो दिव्या मुझे मना करने लगी ओर बोलने लगी आर्यन प्लीज़ ये सब गंदा है तो मैं बोला दिव्या यार सेक्स में सब चलता है तुम आज अपना पानी चख करोतो दिव्या को कागी संजया ओर फिर वो एक बार चाटने के लिए मानी तो मैं बोला ओके ओर दिव्या ने अपनी अंगुली को चाहता ओर मैंने पूछा क्सा लगा तुम्हारी चुत का आनी तो वो बोली आर्यन तुम बहुत गंदे हो ओर चुत का पानी भी बहुत खड़ा नमकीन सा है फिर हम चाट करते रहे ओर फिर दिव्या मुझसे मिलने के बोली ओर बोली आर्यन मैं तुम्हारा लंड अपनी चुत में लेना चाहती हूँ तुमसे चुदना है मैं बोला बातों कब मिलना है तो वो बोली अरयं किया तुम इस फ़्राइडे को आ सकते हो मेरे घर रात में तो मैं बोला कियो कोई नहीं है किया घर तो वो बोली की मेरे अंकल ओर आंटी फ़्राइडे को मॉर्निंग में बिज़्नेस के सिलसिले में कही भर जा रहे है तो मैं बोला आंटी कियो जा रही है तुम्हारी उनका कोई बिज़्नेस नहीं है वो तो टीचर है तो वो बोली की उनकी छुट्टी है तो

वो भी अंकल के सात जा रहे है ओर वो मंडे को आएंगे तो मैं बोला किया तुम अकेले रहोगी तो वो बोली नहीं मैं ओर हमारे घर की नौकरी भी रहेगी तो मैं बोला उसके सामने ये सब टिक रहेगा तो बोली उसी चिंता मत करो उसका सब इंतजाम मैं कर दूँगी ओर तुमको मेरे दोस्त बनाकर मेरे घर ले जाऊंगी तो मैं बोला पर सॅटर्डे को मुझे छुट्टी लेनी पड़ेगी तो वो बोली ले लो मैं कुछ नहीं जानती तुम, मुझे फ़्राइडे को शाम को 5 बजे मिलना मैं तुम्हें लेने आ जाऊंगी झड़ तुम कहोगे मैं बोला ओके मैं ट्राइ करता छुट्टी की तो वो बोली आर्यन ट्राइ मत करो बस तुम फ़्राइडे से मनडे की मॉर्निंग तक मेरे घर मेरे सात रहोगे मैं ओर कुछ नहीं चाहती तो मैं बोला तुमको तो उससे फाड़ा होगा की तुम्हारी चुत की आग सेट हो जाएगी पर मुझे किया मिलेगा तो वो बोली मेरे चुत ओर तुम जो चाहो वो मैं बोला चलो थी है फिर मैं तुमको अब फ़्राइडे को शाम को मिलता हूँ तुम मुझे अपना मोबाइल नंबर दो उसने मुझे अपना मोबाइल नंबर दे दिया ओर मैंने उसे अपना उसके बाद हम सो गये.

उसके बाद आंटी ई बड़ी बेसब्री से फ़्राइडे का इंतजार करने लगा ओर अपने बॉस को छुट्टी को के लिए बोला था वो बोला देखते है पर मेरी किस्मत शायद मेरे सात थी ओर बॉस ने किसी काम के कारण मुझे उदयपुर भेज दिया ओर मैं कुसई कुसई चला गया क्योंकि वहां किसी से मीटिंग करके आर्डर फिक्स करना था बस काम तो 3-4 आवारा का था इसलिए मैं वेडनसडे को नाइट में बस से उदयपुर के लिए निकल गया ओर थर्स्डे को मॉर्निंग में वहां पहुंच गया होटल में गया ओर रूम लिया ओर आराम करने लगा ओर दिन में मीटिंग करके आर्डर ले लिया ओर उदयपुर का काम शाम को 5 बजे तक फ्री कर दिया फिर मेरे दीमक में एक आइडिया आया कियो ना बॉस को कॉल करके बोला जाए की काम नहीं हुआ ओर मैं यहाँ से कल कल यानि फ़्राइडे को नाइट में निकलुगा तो मैंने ऐसा ही किया ओर बॉस को बोल दिया ऐसा करने में मेरा ही फायदा था क्योंकि मुझे छुट्टी लेने की जरूरत नहीं थी

फिर मैं सॅटर्डे को मॉर्निंग में जयपुर पहुंचता ओर लंबा सफ़र कर के आने के कारण मुझे कंपनी की तरफ से छुट्टी मिलती ओर ऑफिस में मंडे को जाना पड़ता तो मैंने बॉस से जुट बोल दिया ओर बॉस भी मान गया ओर आर्डर दिया की कल काम करके ही आना मैं बोला ओके बॉस कल तो आपको कुछ कर द उँगा ओर आर्डर ले ही लूँगा अब मेरा काम हो चुका था तो होटल से निकलना ओर वहां से बस स्टैंड गया पर मैं लेट हो गया ओर उदयपुर से बस निकल चुकी थी ओर नेक्स्ट बस मॉर्निंग में थी तो मैंने सोचा कियो प्रिवत बस से जा जाए तो मैं बाहर आया ओर प्राइवेट बस के ऑफिस में गया वहां से एक बस मिली मुझे उदयपुर से जयपुर जाती थी पर उसका टाइम नाइट में 10 पीयेम का था तो मैंने टिकट लिया ओर वही पास में जाकर होटल पर खाना क्या ओर बस चलने का इंतजार करने लगा अब मैं बता बता बोर हो रहा था तो मैंने सोचा कियो ना तोड़ी देर सोया जाए तो मैं बस में जाकर अपनी सीट पर बात गया ओर सो गया फिर उसके बाद मेरी आंखें तब खुली जब बस चलने लगी तो मैंने देखा की कोई आंटी मेरे पास वाली सीट पर बटी है ओर बस में अनेड्रा है तो मैं सोचने लगा की कोई लड़की ही आ जाती इसके जगह

ओर फिर मैं अपने हेडफोन लगा कर गाने सुनाने लगा ओर मैं अपनी मस्ती में मस्त था ओर दिव्या के बारे में सोच रहा था ओर उसको मान मान ही मान चोद रहा था फिर पता ही नहीं कब मुझे दुबारा नींद आ गई ओर मैं सो गया उसके बाद मेरी आंखें मॉर्निंग में 5 बजे खुली तो मैंने देखा की वो आंटी उतार चुकी है ओर मेरे पास वाली सीट खाली है तो मैं भी बात गया ओर मैं सुबह 7 बजे फ़्राइडे को जयपुर आ गया पर लगतर सेफर के कारण बड़ी में दर्द हो रहा था तो मैं वहां से बस उतरा ओर साइड अपने रूम पर चला गया जब मैं अपने रूम पर पहुंचा तो मेरे अंकल वही कड़े थे मैंने उनको विस किया ओर अपने रूम में चला गया ओर फ्रेसस होकर सो गया उसके बाद उठा ओर खाना खाया ओर फिर से आकर लेट गया उसके बाद मेरे बॉस का कॉल आया ओर मुझे आर्डर के बारे में पूछने लगे तो मैंने बोला बॉस काम हो गया है

अब आज रात को यहाँ से वापस चलुगा तो बॉस बोले कितने का आर्डर मिला है तो मैं बॉस काफी है आर्डर तो ओर इस बार एक न्यू डीलर भी जोड़ा है पर उसका आर्डर थोड़ा कम है हकीकत में इस बार मैं अपने पुरेने डीलर के एक फ़्रेंड को अपनी कंपनी का सब डीलर बना कर आया था बॉस मुझसे कुछ हो गया ओर बोला वेरी गुड आर्यन तुमने तो अच्छा काम किया है पहले एक के पास माल जाता था अब दो के पास जाएगा मैं बोला इसे बॉस तो बोला इसका पयमएट तो टाइम पे मिलेगा ना मैं बोला उसकी नो टेन्शन मैं सारी फ़ॉर्मलटी पूरी करके आया हूँ ओर उसके ब्लॅंक चख भी लाया हूँ तो मेरा बॉस बोल गुड आर्यन अब तुम वापस आ जाओ ओर मंडे को ऑफिस में मिलो मैं बोला ओके बॉस पर हकीकत में तो मैं जयपुर शुब ही आ चुका था अब मैं लेता लेता दिव्या के बारे में सोच रहा था फिर मैं मार्केट गया ओर हेयर रिमूव क्रम लेकर आया ओर अपने नीचे के बाल साफ किए ओर 2 पैकेट कॉंडम भी ले आया था क्योंकि मुझे दिव्या के घर पर 2-दिन रात रुकना था तो मैं तैयारी करने लगा ओर शाम को मैं 4 बजे अपने रूम से निकला ओर मैं अपनी आंटी को घर जाने के लिए बोला ओर मंडे को आने को बोला

तो वो बोली टिक है ओर मैंने दिव्या को कॉल किया भर आकर की कहा हो तो वो बोली मैं घर पर ही हूँ मैंने बोला की बोलो कहा मिलेगी तो वो बोली तुम बातों कहा से तुम्हें ताकि ऑफ करूं मैं बोला तुम मुझे रेलवे स्टेशन्स से रिसीव करो वो बोली टिक है मैं 30 मिनट में वहां पहुंच जाऊंगी तो मैं बोला ओके ओर मेरे रूम से रलवे स्टेशन पास ही था तो मैं 10 मिनट में वहां पहुंच गया ओर मैं वहां उसका इंतजार करने लगा वहां बात कर करीब 30 मिनट बाद मुझे दिव्या का कॉल आया मैं बोला कहा हो तुम वो बोली मैं पार्किंग के पास हूँ भर ओर तुम मैं बोला रुको मैं वही आता हूँ मैं उसको तुमने किया पहना है तो वो बोली मैंने हल्का ग्रीन टॉप ओर ब्लू जीन्स पहनी है तो मैं ओर तुम यहाँ कसे आई हो तो बोली मैं अपनी कार से आई हूँ मैं काक का नंबर किया है तो बोली आइक्स्क्स्क्स है तो मैं ओके जस्ट इंतजार मैं भर आया ओर पार्किंग के पास गया देखा तो वहां एक लड़की कड़ी थी साइड में उसकी कार वही पार्क थी तो मैं देखने लगा उसको

फिर मैं उसके पास गया ओर बोला यू आर दिव्या तो बोली इसे और यू आर आर्यन मैं बोला इसे बीए सुसको यार देखता ही रही गया साली की गजब की फिटिंग थी बॉडी की मस्त बूब्स ओर मस्त उठी हुई गान्ड वो मुझे सब यही डेकोगे या घर भी चलेंगे तो मैं ओके चले तो बोली चलो मैं ओके ओर हम उसकी कार में बात गये ओर हम चल दिए उसके घर मैं रास्ते में उससे बोला की तुमने तुम्हारी नौकरानी केट्टिंग कर दी किया तो वो बोली नहीं अभी घर ही है कर दूँगी घर जाकर तो मैं बोला ओके ओर रास्ते में उसने एक वाइन की दुकान के पास कार रोकी ओर मुझे बोली आर्यन तुम कहो तो ड्रिंक कर सकते हो मेरे घर मैं बोला जब तुम जसी लड़की सात हो तो ड्रिंक की किया जरूरत तो बोली तुमको पसंद है ना ले लो ओर आज मैं भी तुम्हारा सात दूँगी तो मैं उतरा ओर 4 बाहर की बोतल ले ली ओर हम चल दिए उसके घर 45 मिनट बाद यानि 6 बजे मैं उसके घर पहुंचा उसका घर जयपुर से बाहर था ओर एकांत में था वैसे एक पॉश इलाका था ओर घर भी कभी अच्छे थे.

उसने घर पहुंच कर मुझे अपने घर के अंदर आने को बोला मैं गया ओर उसने मुझे अपने गस्ट रूम में बता दिया ओर कूद कार पार्क करने लगी अनपे घर के अंदर फिर वो आई ओर अपनी नौकरानी को बुला कर मुझे पानी पिलवाया उसकी नौकरी एक आगे लगभग 30 एअर की होगी ओर वो देखने में कोई खास नहीं थी बस ये संजो की टाइम पास थी तो उसकी नौकरी ने मुझे पानी पिलाया ओर चली गई

फिर दिव्या मुझे आराम करने को बोली ओर अपने रूम में ले गई ऊपर मुझे आराम करने को बोला ओर शाम का खाने का पूछने लगी मैं बोला जो तुम चाओ वो तो बोली टिक है ओर भर चली गई उसके बाद मैं आराम करने लगा कुछ देर बाद दिव्या आई ओर मेरे पास बात कर बातें करने लगी तो मैंने दिव्या को बोला की मैं तुमको किस करना चाहता हूँ तो वो बोली आर्यन अभी नौकरानी है कुछ देर रुक जाओ वो चली जाएगी उसके बाद जो करना है कर लेना पर अब मैं कहा मानने वाला था मैंने दिव्या का हाथ पकड़ा ओर अपनी तरफ किया ओर उसको बेड पर लिटाकर मैं उसके पिल्स को चूसने लगा ओर वो मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी पर मैं उसको किस किए जा रहा था तभी एक दम से दरवाजा कूला ओर नीकरिणी अंदर आ गई उसके हाथ में टी ओर नाश्ता था उसने हमको देखते ही दरवाजा पर रुक गई ओर मैंने दिव्या को चोद दिया ओर वो टी ओर नाश्ता टेबल पर रककर भर चली गई तभी दिव्या बोली आर्यन तुम बिलकुल ही पागल हो

अब इसने किसी को बोल दिया तो मेरी तो बदनामी हो जाएगी मैं बोला जानेमन नाराज़ ना हो मैं जनता हूँ इसका भी उपाय तुम देखते जाओ मैं अब किया करता हूँ तो बोली तुम रहने दो मैं कूद चुप कर दूँगी इसको मैं बोला यार तुम टेन्शन मत लो मैं कर दूँगा इसको चुप तो बोली कसे मैं बोला वो सब मेरा काम है फिर मैंने ओर दिव्या ने टी पी ओर नाश्ता किया उसके बाद दिव्या से बोला तुम भर जाओ ओर अपनी नौकरानी को बेजो अंदर ये प्लेट हटेने के लिए ओर तुम अंदर मत आना ओके जब वो जाए उसके बाद आना तो बोली टिक है ओर चली गई कुछ देर बाद उसकी नौकरी आई ओर साफ करने लगी तो मैं बोला की किया नाम है आपका तो बोली मेरा नाम रूबी है

मैंने बोला किया देखा तुमने तो वो बोली कुछ नहीं मैं बोला किसी से कहोगी तो नहीं की मैंने तुम्हारी छोटी मैडम को किस किया तो वोबोली शब हम किसी से किया कहे हम छोटे लोगों को अपनी नौकरी से मतलब है मैं बोला कितने रुपये देते है ये तो बोली महीने के 3000 र्स तो मैं ज्यादा चाहिए तो मैं दिला सकता हूँ पर उसके बदले में तुम मुझे कुछ डोगी ओर अपना मौह बंद रकोगी तो वो बोली टिक है मैं बोला जाओ अब अपना काम करो मैं बाद में बात करूंगा तुमसे तो वो बोली टिक है साहब ओर चली गई मैंने देखा की उसके चाहे पे रुपये ज्यादा मिलने के नाम से चंक आ गई है उसके बाद दिव्या आई ओर बोली हो गया ना सब अब तो नहीं कहेगी किसी से तो मैं बोला नहीं अब ये अपना मौह बंद रखेगी तो दिव्या की टेन्शन कम हुई ओर मैं बोला तुम वो बाहर कहा रख आई तो वो वो तो कार में ही है मैं उनको लेकर आओ ओर फ़्रीज़ में रको यार तो भी चली गई ओर मैं उठा ओर सीधा किचन की तरफ गया ओर नौकरानी से बात करने लगा मैं बोला तेरा आदमी किया करता है है तो बोली रिक्शा चलता है मैं दारू अंकल है तो बोली अंकल है मैं बोला बच्चे कितने है तो बोली 4 है मैं बोला पड़ते है वो बोली हां चारों पड़ते है मैं बोला कितना बड़ा है तेरा बड़ा बच्चा तो बोली शब सबसे बड़ा बेटा 10 साल का है बोला घर चलना मुश्किल होगा ना वो बोली हां शब मेरा मर्द तो जितना कमाता हिया

सब की दारू पी जाता है ओर बस नहीं ही चलती हूँ घर का करछा मैं बोला मैं तेरी मदद कर सकता हूँ तो बोली कसे शब मैं बोला मेरे लिए एक काम करोगी तो बोली किया मैं बोला तुम काम कर सकती हो मेरे हिसाब से तो तो बोली शब होगा तो जरूर करूँगी मैं बोला ओके तभी दिव्या आ गई ओर फ़्रीज़ में बाहर रख दी मैंने उसको रूम में जाने को बोला तो बोली टिक है चली गई मैं फिर मैं निकरनी से बोला शब कभी मदद नहीं करते तेरी तो बोली शब तो कभी कभी घर पर आते है तो मैं बोला बड़ी मैडम तो वो बोली हां कर देती है कभी कभी कुछ कपड़े या खाना देकर तो मैं बोला मैं करूंगा तेरी मदद छोटी मैडम भी करेगी ओर तेरी मदद बड़ी मैडम भी करेगी तो बोली शब पर कसे करेगी तो मैं बोला मैं सब एडजस्ट कर दूँगा अभी तू ये 500 र्स रख ओर मुझे जो करनाहिया करने दे तो बोली किया करोगे शब मैं बोला कुछ नहीं बस तुम अपना काम करो ओर घर जाओ ओर शुब आ जाना फिर वो बोली टिक शब है ओर उसने अपना काम खत्म किया ओर 7.30 बजे अपने घर चली गई.

फिर मैं दिव्या अकेले ही थे घर में मैंने दिव्या को बोला अब मैं दरवाजा लॉक कर आओ ओर अब तुम आ जाओ अंदर अब तुम ओर मैं ही है तो बोली हां अब तुम ओर मैं ही है फिर वो मैं दरवाजा लॉक करके आई ओर मेरे पास सोफे पर बात गई अब मैं ओर दिव्या थे बस घर के अंदर तो मैंने दिव्या को पकड़ लिया ओर उसके लिप्पस को चूसने लगा अब वो मुझसे थोड़ा सा शर्मा रहित थी ओर पर तोड़ी देर में ही दिव्या मेरा सात देने लगी ओर मैं ओर दिव्या को किस कर रहे थे वो मेरे लिप्पस चूस रही थी ओर मैं उसके मैंने उसके लिप्पस को चूसते चूसते ही उसके टॉप के अंदर हाथ डाल दिया ओर उसके बूब्स को बढ़ाने लगा अब दिव्या ढरी ध्र्रे गरम हो रही थी ओर मेरा सात दे रही थी उसके बाद मैंने दिव्या को उठाया ओर उसके रूम में ले जाकर बेड पर लिटा दिया ओर मैं उसके उप्पर लेट गया और मैं दिव्या के लिप्पस को चूसने लगा दिव्या भी मेरा सात दे रही थी ओर अपनी जीभ को मएरए मौह में डालकर मुझे किस कर रही थी हम दोनों एक दूसरे के मौह में जीभ डालकर किस कर रहे थे ओर मैं अपने एक हाथ से दिव्या के34 साइज के बूब्स को दबा रहा ताओर दिव्या मेरी कमर पर हाथ फेयर रही थी उसके बाद मैंने दिव्या के गर्दन ओर कानों के निचले हिस्से पर किस करने लगा दिव्या अब गरम होने लगी थी उसके बाद मैंने दिव्या ला टॉप उप्पर किया ओर उसकी नबी को किस करने लगा

अब दिव्या ओर भी ज्यादा तड़पने लगी ओर नागिन की झाँसे बेड पर बाल कने लगी उसके बाद मैंने दिव्या का टॉप उतार दिया ओर दिव्या सिर्फ़ उप्पर से ब्लू ब्रा में थी उसके बूब्स बहुत ही सेक्सी लग रहे थे फिर मैं दिव्या के उप्पर बुके कुत्ते जी झाँसे टूट पड़ा ओर दिव्या के बूब्स को किस करने लगा ओर दिव्या गरम होने के कारण सिसकियां लेने लगी फिर मैंने दिव्या को चोद दिया तो दिव्य अंूजे देखने लगी ओर पूछ की किया हुआ तो मैं बोला यार पहले कुछ कहा लेते है तो बोली ओके जसी तुम्हारी मर्जी फिर मैंने दिव्या को बाहर के बोला तो दिव्या उन्हें ले आई ओर मैंने दिव्या को बाहर के लिए पूछा तो उसने मना कर दिया तो मैंने बोला ओके मैं ही पी लेता हूँ तो मैंने 2 बाहर की बोतल पी ओर फिर दिव्या के सात खाना क्या ओर उसके बाज़ दिव्या ने मुझे रूम में भेज दिया ओर कूद किचन में चली गई ओर ओर उसके बाद कुछ देर बाद दिव्या रूम में आई तब तक मैं पूरे नशे में हो चुका था बस मुझे दिव्या को चोदना था ओर रात के 10 बज चुके थे दिव्या आई तो मैं उसे देखता ही रही गया क्योंकि अब वो मुझे ओर भी सेक्सी लग रही थी क्योंकि दिव्या अब रूम में सिर्फ़ बार ओर पैंटी में आई थी ओर आते ही मुझे पर टूट पड़ी ओर मेरे लिप्प को चूसने लगी उसके बाद मुझे बावलो अरयं आज तुम मुझे नहीं मैं तुमको छोड़ुगी मैं बोला ओर मेरे कपड़े उतार दिए ओर मुझे नंगा कर दिया ओर मेरे लंड को देखते ही उस पर टूट पड़ी ओर हाथ में पकड़ कर अपने मौह में लिया ओर मेरे लंड को चूसने लगी.

दिव्या बिलकुल किसी चुड़दकड़ लड़की की झाँसे लंड चूस रही थी उसके बाद उसने मेरे लंड को 10 मिनट तक चूसा होगा उसके बाद उसने मेरे लंड को भर निकल दिया मेरा लंड उसके टुक से गीला होने के कारण चंक रहा था उसके बाद दिव्या ने मुझे अपनी पैंटी निकालने के लिए बोला तो मैं तुरंत ही उसकी पैंटी निकल दी ओर दिव्या की चुत को देखा तो देखता ही रही गया एक दम क्लीन शेव ओर एक दम गुलाबी चुत फूली उसकी संतरे की फाक मुझे तो मजा आ गया देखते ही उसके बाद मैंने दिव्या की फांकों को अपने हाथ से खोला ओर देखा तो उसकी चुत से मादक सी कुस्बु आ रही थी उसके बाद दिव्या ने अपनी ब्रा भी उतार दी ओर मुझे अपनी चुत चाटने के लिए बोला तो मैं उसकी गीली चुत को सुगने लगा तो मैं दिव्या को बोला की तुम कसा सेक्स चाहिए तो वो बोलित जैसा तुमने राधिका ओर नेहा के सात किया था हार्ड ओर गंदा

तो मैं बोला ओके ओर मैं दिव्या की चुत पर टूट पड़ा ओर उसकी चुत को चाटने लगा ओर दिव्या पूरी तरह से चुदने को तैयार थी ओर तड़प रही तजी पर मैं उसके चुत को चाट रहा था ओर फिर मैंने अपनी 2 अंगुली उसकी चुत में पेल दी ओर अंदर भर करने लगा ओर दिव्या की चुत का चाटने लगा ओर दिव्या के मौह से सिसकियां निकलने लगी ओर दिव्या के निप्पल पूरे टाइट हो चुके थे वो अब धरे धरे आआआआआआआआअ……………….उूउउंम्म
एयाया………………..आआआआआआअहह……………………………आआआआआहमुऊऊुउउम्म्म्मममममममममममममम
मम्मूऊऊुुुुउउ…………………………….आआआआआआआअहह…………………………………आआआअहह
आआआआअम्म्म्ममममममममममम…….आआआअम्म्म्ममममम………………ऊऊहह……….आआअहह……………………….. कर रही थी ओर मैं उसकी चुत को लगातार चाट रहा था ओर वो……आआआआआआहह…………………………… आआआहहाअ………………………………..आआआहमम्म्मममममम्मूऊऊुुुुुुउउ…………………………………………
……………….हमम्म्ममममममम……………ऊऊऊऊऊऊऊओह ……………. आर्यंन्नननननणणन् कोमूऊऊऊऊओन…आआआआआआअहह……………………आआआआअहह…………..आआआआआआहह
…….आआआआआहमम्म्मममममम……. आर्यन ओर तेज……….आआआहह………………………………..आआअहह. ………आआअरर्र्र्र्ररर…………………….आआआआआआआआअरर्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्र्रररयययययययययययययाआाआअन्न्‍नननननननणणन्………….आआआआआआररर्र्र्र्र्रररयययययययययययाआआआआआन्न्‍नननननननननणणन्………………… आर्यन ………..ओर तेज चाटो ओर तेज चाटो मेरी चुत को आस…..आर्यन कोमों आर्यन आज मुझे अपना बना लो आस कोमेन….

आर्यन डाल दो मेरी चुत में अपना लंड ………..आज मुझे जन्नत की सर करा दो………. ककककूऊऊऊम्म्म्मममीईईवन्न्‍नननणणन् आर्यन ओर मैं भी उसकी चुत को लगतर10 मिनट तक चाटने के कारण उसकी चुत से पानी निकल गया ओर हांफने लगी बेड पर पड़ी पड़ी ओर मैं उसका सारा पानी पी गया उसकी चुत का अमृत बहुत ही टेस्टी था अब वो अपनी सांसों को कोंतोर्ल कर रही थी बेड पर पड़ी पड़ी. फिर उसने मुझसे बाथरूम जाने की कहा तो मैंने उसे उठाया अपनी गोद में ओर बाथरूम में ले गया ओर मैंने उसके कड़े कड़े ही बाथरूम करने को बोला तो वो शर्मा गई ओर फिर मान गई ओर कड़े कड़े बाथरूम करने लगी मैं उसकी चुत को देख रहा ओर बातर्रों करने लगी. उसका पेशाब उसकी जांघों के सहारे बह रहा था उसकी जंगे उसके पेशाब से बिग गई थी उसके बाद दिव्या को मैंने साफ किया ओर बेडरूम में जाकर बेड पर लिटा दिया.

अब दिव्या चुदने के लिए पूरी तरह से तैयार थी ओर मैं भी मेरा लंड फिर से झटके मरने लगा ओर मैं दिव्या के उप्पर आ गया ओर उसको किस करने लगा मैं उसके होंठ चूसने लगा उसके बाद गर्दन फिर उसके बूब्स के निप्पल को किस करने लगा दिव्या फिर से तड़पने लगी ओर मेरे लंड को पने हाथ में लेकर सहलाने लगी मैं अब दिव्या की बूब्स को चूस रहा त और उसके निप्पल को काट रहा था ओर एक हाथ की 2 अंगुली उसकी चुत के अंदर डालकर उसकी चुत के अंदर बाहर कर रहा था फिर मैंने दिव्या के बूब्स को चूस चूस कर लाल कर दिया ओर उसके 34 के गोरे बूब्स पर पर मेरे दाँतों के निशान नज़र आ रहे थे अब दिव्या पूरी तरह से तरह थी चुदने को उसके बाद मैं ओर दिव्या 69 की पोज़िशन में आ गये ओर दिव्या मेरा लंड चूसने लगी मैं उसकी चुत को अपनी जीभ से चोद रहा था हमने इसे 5 मिनट तक किया ओर दिव्या की चुत से उसका कामरस आ रहा था फिर दिव्या मेरे उप्पर उठी ओर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चुत पर टीका दिया ओर रगड़ने लगी अपनी चुत की फांकों पर ओर मुझे चोदने के लिए बोलने लगी मैंने दिव्या को बेड पर लेता दिया ओर उसके उप्पर आ गया ओर अपना लंड उसकी चुत पर टीका दिया

फिर मैं धीरे धीरे अपना लंड उसकी चुत के उप्पर रगड़ रहा था तो दिव्या बोलो घुसा दो ना यार ओर मत तड़पाओ पर मुझे मजा आ रहा था ओर दिव्या तड़प रही थी चुदने के लिए मैं बोला तुझे बहुत जल्दी है चुदने की तो बोली घुसा दे ना अब अपना लंड मेरी चुत में ओर फाड़ दे आज इसको ओर बना दे इसका भोसड़ा हरामी जल्दी से कियो तरपा रहा है मैं बोला साली राद तो ये ले ओर मैंने दिव्या को कंधे पर से पकड़ा ओर अपना लंड उसकी चुत में सेट किया ओर एक जोरदार झटका मारा मेरा लंड उसकी चुत को फाड़ता हुआ अंदर गुस गया ओर उसकी बाकछेड़नी से जा टकराया ओर दिव्या की एक चीख निकल गई आआअहह मररर्र्र्ररर गैिईईईईईईईईई माआआआआ हहुउऊम्म्म्ममममममममम आर्यन प्लीज़ भर निकालो दर्द हो रहा है लेकिन मैंने उसे टाइट पकड़ा हुआ था ओर उसके अब मैं उसके लिप्पस के उप्पर अपने लिप्पस टीका दिए ओर उसके लिप्पस को चूसने लगा.

ओर फिर मैं उसके होठों को चूमने लगा ओर ओर ,उसे धक्के देकर हटाने की कोशिश करने लगी ओर मैंने अपना लंड आगे पीछे करना शुरू कर दिया मेरा लंड उसकी चुत में पूरा घुसा हुआ था पर मुझे ऐसा लग रहा था की साली एक बार चुदी है अपने बाय्फ्रेंड से ओर मैं अब उसकी चोदने लगा ओर अपनी धरे धरे बढ़ता बढ़ाने लगा ओर अब दिव्या भी धीरे धीरे अब अपनी गान्ड को उठने लगी ओर मेरा सात देने लगी