कैसे दोस्त ने मेरी वर्जिन बहिन

हाय दोस्तों, यह Antarvasna मेरी पहली कहानी है सभी हिन्दी सेक्सी कहानियाँ पढने वाले दोस्तों को मेरा नमस्कार मैं इस साइट का रेगुलर सेक्सी कहानी पढ़ने वाला रीडर हूँ मैनें दो तीन कहानियाँ भी लिखी है। आज जो कहानी मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूँ वह मेरी छोटी बहिन की सच्ची कहानी हैं दोस्तों ऐसा लंड दुनिया में किसी लड़की को देखकर कड़क नहीं होता, जैसा अपनी बहिन को नंगी देखकर होता है ज़्यादा इंतज़ार नहीं कराऊंगा आप लोगों को सीधा कहानी की तरफ ले चलता हूँ तो दोस्तों आप यह कहानी कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे हो।

लेकिन उससे पहले मैं अपने और मेरी बहिन के बारे में कुछ बता देना चाहता हूँ यह कहानी जब की है तब मेरी उम्र सिर्फ़ 23 साल की थी और मेरी बहिन प्रिया 19 साल की थी वह बचपन से ही बहुत खूबसूरत और सुन्दर थी उसका रंग बहुत ही गोरा था एकदम दूध जैसा 17 साल के बाद से ही उसकी चूचियां 32 साइज़ की और गांड 36 साइज़ की हरी भरी थी उसकी आँखें बहुत खूबसूरत है और उसके लम्बे-लम्बे बाल एकदम घुटनों तक आते है वह जब चलती थी तो मोहल्ले से ऐसा कोई आदमी नहीं होगा जो उसे देखकर उसे बिस्तर पर लेकर जाने की नहीं सोचेगा।

उस समय मेरा बेच कंप्लीट हो गया था और मुझे बोम्बे में नोकरी मिल गई एक महीने में. तो मैं वहाँ पर चला गया हमारे ऑफिस में हर देश के लोग काम करते थे मेरे साथ एक आदमी की बहुत अच्छी दोस्ती हो गई थी वह, साउथ अफ्रिका से है उसका नाम अक़ील था. वह एक नंबर का कमीना था हर सप्ताह में एक दो बार रंडीखाने जाकर चोदकर आता था कुछ दिन बाद ऑफिस से मुझे और अक़ील को एक फ्लेट में 3 बेडरूम वाला कमरा मिला रहने के लिए तो हम वहाँ पर शिफ्ट हो गये हम दोनों बहुत मस्ती में वहाँ रहते थे वह कभी-कभी बाहर से लड़की लेकर आकर चोदता था मुझसे भी चुदवाता था. पता नहीं कितना सेक्स का भूखा था वह। वह अपने घर के बारे में बताता था मैं भी अपने घर के बारे में. मेरे परिवार में मेरी माँ और बहिन है यह सुनकर वह कहता था कि उन दोनों को यहाँ बुला लो. तो मैं भी घर पर बताया करता था उसके बारे में. एक बार निर्णय हुआ की मेरी बहिन कुछ दिनों के लिए मेरे पास आकर रहेगी तो एक दिन वह ट्रेन पकड़कर बोम्बे स्टेशन आ गयी. उसे लाने के लिए मैं और अक़ील दोनों गये थे स्टेशन पर। स्टेशन पर आते ही मैंने उसके साथ अक़ील का परिचय करा दिया। वह उसे देखते ही देखता ही रह गया. पूरा रास्ते जब हम तीनों गाड़ी में थे तो अक़ील उसी के साथ ही बात करने लगा और देखने लगा. मुझे लगा की कुछ गड़बड़ नां हो जाए. फिर करू तो क्या करू. रहना एक साथ ही हैं और अगर कुछ होगा तो कैसे रोकुंगा. मैनें सोचा की जो होगा देखा जाएगा। तो हम घर पर आ गये और आराम से रहने लगे कुछ 10 दिन के बाद हम दोनों बैठकर टीवी देख रहे थे और मेरी बहिन प्रिया खाना बना रही थी. इतने में अक़ील को बाथरूम जाना था तो वह बाथरूम गया और उसका मोबाइल सोफे पर छुट गया तो मैं ऐसे ही उसका मोबाइल देखने लगा. उसके मोबाइल की गैलरी में मैने देखा तो मेरा होश उड गया. उसमें मेरी बहिन प्रिया के फोटो अलग-अलग पोज़ में भरे पडे है तो मुझे उन फोटो को देखने में मज़ा आने लगा, तो मैं और देखने लगा। देखते-देखते मुझे एक वीडियो मिला जिसमें मेरी बहिन नंगी होकर नींद में सो रही है और अक़ील उसका वीडियो बना रहा है देखकर ऐसा लगा की उसको नींद की गोली खिला दी हो उस दिन से मुझे यह पता लगाना था की यह लोग क्या करते है. दोस्तों आप यह कहानी कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे हो।

एक दिन अक़ील ऑफिस से कुछ बहाना बनाकर दोपहर को ही निकल गया तो मुझे शक हुआ कि क्या जल्दी है. तो उसके थोड़ी देर बाद मैं भी बॉस को बोलकर बहाने से निकल पड़ा और सीधा हमारे प्लेट पर आया. मेरे पास डुप्लीकेट चाबी तो थी ही मैं बहुत देर में लॉक खोलकर अन्दर आया तो ड्रॉयिंग रूम खाली था. मैनें अक़ील के कमरे में से आवाज़ सुनी. तो मैं धीरे-धीरे उसके कमरे के छेद में से आँख लगाई और देखा तो मेरे होश उड गये. अक़ील और मेरी बहिन एकदम नंगी है मेरे बहिन की आँख से आँसू टपक रहे है और अक़ील एक काला अफ्रिकन सांड अपने 10 इंच का लंड हाथ में लेकर उसके साइड में बैठा है। वह इंग्लीश में जो मेरी बहिन को बोल रहा है उसको मैं हिन्दी में बताता हूँ वह बोल रहा है कि साली तेरी नंगी वीडियो मैं माँ बनाकर छोड़ दूँगा तू रंडी बन जाएगी तू हर रोज़ मेरा बिस्तर गर्म कर. मैं तुझसे शादी कर लूँगा. यह कहकर वह उसके निपल्स को चूसने लगा उसका मुहँ इतना बड़ा है कि आधी चुची उसके मुहँ में आ गई थी. और एक हाथ से वह उसके हल्की सी जाली वाली पेंटी में पिंक कलर की चूत को सहला रहा था। फिर उसने उसे खड़ा करके सामने की तरफ झुका दिया और पीछे से मुहँ लगाकर उसकी चूत को चाटने लगा. क्या सीन था वह. उसके क्रीम जैसी गोरी चूतड़ के बीच में उसका काला सा मुहँ मेरा भी लंड खड़ा हो गया. फिर थोड़ी देर चाटने के बाद उसने उसको बिस्तर पर लेटा दिया और उसके दोनों पैरों को फैला दिया और अपने 10 इंच के काले लंड पर अपना थूक लगाने लगा. उस पर थूक लगाकर अपने लंड को एकदम चिकना बनाया और उसकी गोरी चूत में डालने लगा. उसकी चीख निकल रही थी. लेकिन उसने उसको छोड़ा नहीं छोड़ा उसने अपने मोटे से लंड से उसकी चूत फाड़ डाली और चोदने लगा. वह दर्द के मारे तड़प रही थी और यह सांड एकदम जोश में चोद रहा था।

करीब 30 मिनट तक यह सिलसिला चलता रहा वह हर पोज़ में उसे चोद रहा था. फिर जब उसके निकालने का समय आया तो उसने प्रिया को ज़मीन पर बैठा दिया और उसके मुहँ पर अपना वीर्य छोड़ने लगा उसने एक कप भरा सा सफेद कलर का वीर्य उसके मुहँ और चुची पर भर दिया. फिर उसने उसके बाल पकड़कर अपने लंड को उसके मुहँ के पास लेकर गया और मेरी बहिन ने उसके लंड को चाटकर साफ कर दिया।

उस दिन शाम को मैनें अक़ील को बोला कि आपसे कुछ बात करनी है फिर मैनें बोला कि मैनें उसके मोबाइल पर वह फोटो देखे है तो उसने बोला की वह भी मुझसे बात करना चाहता था वह मेरी बहिन से शादी करना चाहता है मुझे थोडी झिझक थी कि वह एक कमीना आदमी है पता नहीं शादी के बाद क्या होगा लेकिन मैनें जो देखा उसके बाद कुछ कहने को नहीं था तो मैं भी राज़ी हो गया। और फिर एक दिन रजिस्टर ऑफीस में जाकर उसके साथ मेरी बहिन प्रिया की शादी हो गयी।

धन्यवाद कामलीला के प्यारे पाठकों !!