बहन की चूत में लंड का इंजेक्शन मारा

वैसे ये कोई Antarvasna सच्ची कहानी नहीं लेकीन सिर्फ एक फेंटसी हे. इस कहानी के केरेक्टर्स रियल हे लेकिन सेक्स की सभी घटनाए सिर्फ और सिर्फ फेंटसी के ऊपर आधारित हे जिसका रियल लाइफ से कोई लेना देना नहीं हे.

तो पहले अपनी बहन के बारे में बता दूँ. उसका नाम साना हे. वो एकदम हॉट हे. उसके बूब्स बड़े हे और उसका फिगर 36c-32-42 हे. जी हाँ उसकी गांड किसी गुब्बारे के जैसी हे जिसके लिए मैं पागल रहता हूँ. उसकी गांड का आकार दिल के जैसा हे. बूब्स गांड के मुकाबले छोटे लगते हे. वो कद में छोटी हे और रंग में दूध के जैसी गोरी हे.

अब मेरी फेंटसी की बात. हम लोग चार मेम्बर हे फेमली में. हम लोग काफी पैसेवाले हे और चार लोगो के हिसाब से हमारा घर काफी बड़ा हे. अप्रेल महीने की स्टार्ट थी और मेरे एक कजिन की शादी थी. शादी मुंबई में थी. लेकिन मेरे एग्जाम थे इसलिए मैं नहीं गया. वैसे मेरी एग्जाम के लिए मोम डेड भी नहीं जाना चाहते थे लेकिन कजिन लोगों ने बहुत जोर दिया इसलिए वो चले गए. मुझे लगा की मजा आ जाएगा अपने दोस्तों को घर पर बुला के मजे करने में. लेकिन मम्मी ने बताया की साना (वो मेरे से उम्र में 4 साल बड़ी हे) घर पर रहेगी ताकि तुम पढाई में रहो और मस्ती मजाक में नहीं.

वो लोग दुसरे दिन मोर्निंग की ट्रेन से निकल गए, और मैं घर में अपनी सेक्सी बहन के साथ अकेला था. मेरे मोम डेड एक हफ्ते के लिए गए थे और मेरी एग्जाम 2 दिन में खत्म हो जानी थी. मैंने दो दिन तक खूब पढाई की. साना को मैंने कहा की मैं एग्जाम के बाद अपने घर पर रहूँगा कुछ दिन. वो मान गई.

पेपर खत्म होने के बाद हम एग्जाम सेलिब्रेट करने के लिए एक बार में चले गए दोस्तों लोग मिल के. शराब पिने के बाद हम लोगो ने दो रंडियों को चोदा एक दोस्त के घर पर जिसके मोम डेड बहार गए हुए थे.

दुसरे दिन मैं अपने घर गया तो साना ने एग्जाम के लिए पूछा. मैंने बताया की अच्छी हुई. फिर उसने कहा चलो लंच कर लो. लंच के बाद हम अपने अपने कमरे में चले गए. साना ने मुझे शाम में बताया की उसकी तबियत ठीक नहीं लग रही थी. मैंने उसे कहा की डॉक्टर को बुलाऊ तो उसने कहा नहीं अभी पैसे नहीं हे मेरे पास और मैं पॉकेट मनी से नहीं देना चाहती हूँ. साना ने ये भी कहा की हलकी सी शर्दी लग रही हे बस. और उसे सांस लेने के वक्त थोडा दर्द होता था. मैंने अपने एक दोस्त को कॉल किया जिसका भाई डॉक्टर हे. मैंने उसे कहा.

दोस्त के डॉक्टर भाई ने कहा की स्टेथोस्कोप लगा के हर्ट बिट चेक करो. अगर हर्ट बिट साफ़ हे तो सिर्फ गरम कोफ़ी इ दो ठीक हो जायेगा. और अगर हर्ट बिट में कुछ अलग फिलिंग होता हे तो वापस मुझे कॉल करो.

मैंने स्टेथोस्कोप कान में लगाया. और मैं हर्ट बिट चेक करने के लिए आगे बढ़ा. साना बिस्तर में सोयी हुई थी. और उसे देख के मेरे अंदर के मर्द ने भूखे होने के संकेत दिए. मैंने मन ही मन कहा साले हरामी कल ही तो तो दो रंडियों को चोदा हे. लेकिन लंड हे की मानता नहीं!

मैंने स्टेथोस्कोप कान में खोसा और साना के बूब्स वाले हिस्से को चेक करने लगा. ऐसा करने से मेरे अन्दर सच में अराउस फिलिंग आ रही थी. मैं धीरे से उसके बूब्स को दबा रहा था और उसकी धडकने भी ऐसा करने से तेज हो रही थी. मैं उसके सुंदर चहरे को देख रहा था. साना ने कहा डॉक्टर औरतों के लिए पीछे से चेक अक्र्ते हे.

मैंने उसे उल्टा घुमा दिया. अब उसकी बड़ी गांड मेरे एकदम सामने थी. उसने ब्लेक लेगिंग पहनी हुई थी और ऊपर एक टाईट गुलाबी कमीज पहना था. वो एकदम हॉट लग रही थी. उसका कमीज थोडा ऊपर की और उठ गया था जिस से उसकी गांड थोड़ी थोड़ी दिख रही थी मुझे. उसकी लेगिंग के अंदर की गुलाबी पेंटी की स्ट्रिप भी दिख रही थी. मैंने अपने काम के ऊपर ध्यान रखा और उसकी हर्ट बिट को चेक किया. लेकिन मेरा दिमाग वहां पर नहीं था. मैं उसकी गांड को ही देखता गया और उसकी कमर के ऊपर हाथ दबा रहा था.

साना ने कहा, हो गया की नहीं?

तब मैं होश में आया.

मैंने कहा: नहीं अभी क्लियर नहीं सुन पा रहा हूँ. मैं थोडा और चेक कर लेता हूँ.

मैंने साना को अब उसका कमीज थोडा ऊपर करने के लिए कहा.

उसने एक पल के लिए सोचा और फिर अपने कमीज को ऊपर कर दिया. उसे ऐसा करने में शर्म आ रही थी. लेकिन मैं बेशर्म के जैसे ही अपनी सेक्सी बहन के हॉट बदन को देख के एन्जॉय कर रहा था. उसने ऊपर कमीज के निचे ब्लेक ब्रा पहनी थी. उसकी कमर भी एकदम सफेद थी. मैं फिर से हर्ट बिट चेक करने लगा लेकिन सिर्फ अपने मजे के लिए. मेरा लंड उस वक्त लोहे की चट्टान के जैसे सख्त हो चूका था.

मैं जानबूझ के उसकी ब्रा की स्ट्रिप को पकड़ के हिलाता था बार बार. फिर मैंने साना को कहा ये बीएच में आ रही हे इसलिए चेक करने में प्रॉब्लम हो रहा हे. लेकिन उसे बड़ी शर्म आ रही थी और उसने कहा तू ही उतार दे उसको. मैं तो एकदम खुश हो गया और मैंने धीरे से अपनी सिस्टर की ब्रा को उतारा.

मैं एकदम होर्नी हो चूका था और फिर से चेक करने लगा. अब साना भी जान गई थी की मैं क्या कर रहा था. उसकी साँसे तेज हो गई थी. मैंने अपनी स्लीपर्स निकाली और बेड के ऊपर चढ़ गया. मैंने अपने घुटने ऐसे रखे की उसके दोनों तरफ एक एक लेग था मेरा. मैंने कहा खड़े खड़े थक गया मैं तो. उसने कुछ भी नहीं कहा. वो शायद मेरे लिए ग्रीन सिग्नल था. और मैं उसकी सेक्सी बबली गांड के ऊपर बैठ गया.

बाप रे कितनी मस्त फिलिंग थी अपनी बहन की गांड छूने की! उसने हलके से मोअन किया क्यूंकि मेरे बोक्सर में जो मेरा खड़ा हुआ लंड था वो उसकी गांड को टच हुआ था. मैं उसकी कमर के साथ एक हाथ से अपने लंड को भी बिच बिच में हिला रहा था और लंड को उसकी सॉफ्ट सॉफ्ट गांड में दबा रहा था. मेरा तो वीर्य छटकने को था लेकिन मैंने जैसे तैसे उसके ऊपर कंट्रोल किया.

मैं जैसे जैसे प्रेस कर रहा था वैसे वैसे वो मोअन कर रही थी. उसकी आँखे बंद थी. ब्रा खुली हुई थी लेकिन अभी भी उसके बूब्स के ऊपर थी. उसके बूब्स का साइड का हिस्सा दिख रहा था. वो जोर जोर से साँसे ले रही थी. मैं निचे झुका और धीरे से उसके कान में कहा.

मैं: लगता हे सिरियस हे मुझे इंजेक्शन लगाना पड़ेगा.

साना: लेकिन इन्जेकशन से तो दर्द होगा मुझे?

मैं: नहीं उतना दर्द नहीं होगा, इंजेक्शन के अंदर की दवाई तुम्हे ठीक कर देगी.

साना: इंजेक्शन एकदम हार्ड हे क्या?

मैं: हां और वो ढूंढ रहा हे.

साना: लेकिन मुझे इंजेक्शन से डर लगता हे.

मैं: लेकिन ये वाला इंजेक्शन अलग हे उस से दर्द नहीं मजा आता हे.

साना: लेकिन आराम से, वरना सब दवाई ढुल जायेगी.

मैं तो जैसे उसके शब्दों से ही उत्तेजित हो रहा था. मैंने उठ के अपने कपडे खोल दिए और एकदम न्यूड हो गया. उसने भी खड़े हो के अपनी ब्रा को और कमीज को अपने बदन से हटा दिया. और आँखे बंद कर के वापस लेट गई. मैंने निचे लेट के हम दोनों के ऊपर ब्लेंकेट डाल दिया. मैंने उसके नेक के उपर पीछे से किस दे दी. वो एकदम जोर से मोअन कर रही थी. मैंने उसे घुमने के लिए कहा. वो घूम गई लेकिन आँखे अभी भी बंद थी. मैंने उसे किस दे दी और वो जोर से मोअन करने लगी थी. हमने अपनी सलाइवा एक्सचेंज की. फिर मैं निचे की तरफ बढ़ा. मैंने उसके सेक्सी बूब्स को किस दिया और उसे चूसा. वो अह्ह्ह अह्ह्ह कर रही थी. और उसका बदन कांप रहा था.

साना: तुम तो इंजेक्शन लगाने वाले थे न?

मैंने निचे हो के उसकी चूत को लेगिंग के ऊपर से ही किस दे दिया. वो एकदम गीली हो चुकी थी. मैंने उसकी लेगिंग को निचे खिंच दिया और उसने ऊपर हो के अपनी गांड को उठाई ताकि मैं लेगिंग निकाल सकूँ. उसकी चूत की खुसबू आ गई. मैंने पेंटी के ऊपर से उसकी चूत को किस किया और अपनी ऊँगली से टच किया. वो मोअन कर रही थी. मैंने लेगिंग के जैसे ही पेंटी को भी निकाला. और अपनी सेक्सी बहन की क्लाइटोरिस को मसाज करने लगा. और साथ में उसके एसहोल को भी.

कुछ देर उसकी चूत को चूसने पर वो मेरे मुहं में ही झड़ भी गई. फिर वो अपनी सांस को कंट्रोल में ले के बोली: क्या यही इंजेक्शन था?

मैं: नहीं ये तो इंजेक्शन के पहले मैं एरिया को क्लीन किया था.

वो हंस पड़ी और बोली: इसका मतलब हे इंजेक्शन को क्लीन करने की जरूरत नहीं हे?

मैं अब अपनी कमर के बल लेट गया. साना को खिंचा और वो समझ गई. वो मेरे ऊपर आ गई और हम दोनों फिर से एक दुसरे को चूमने लगे. फिर उसने निचे हो के मेरे 7 इन्चे लंड को मस्त सक किया. मेरे मोटे लंड को उसने मजे से मुहं में भर के चूसा. उसने मुझे ऐसा मस्त ब्लोवजोब दिया जो मैं लाइफटाइम याद रखूँगा.

साना: अब तो इंजेक्शन रेडी हे?

मैं: हां लेकिन उसे स्पेशल पोजीशन में लगाते हे.

मुझे उसकी गांड पसंद थी. इसलिए मैंने उसे पेट के बल लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया. मैंने अपने लंड को उसकी चूत में डाल दिया ताकि पीछे से मुझे उसकी गांड दिखे. वो एकदम गीली थी और उसकी चूत काफी टाईट थी. मेरी लाइफ की ये सब से गीली चूत को आज मैं चोद रहा था. मैं उसकी सेक्सी गांड को पकड़ के चूत को चोद रहा था. और वो अह्ह्ह अहह कर के अपनी गांड हिला के लंड ले रही थी. मैं भी मोअन करने लगा था अपनी इस सेक्सी बहन को चोदते हुए.

मैंने वीर्य निकालने की कगार पर आ खड़ा था. मैंने साना को चूत टाईट करने के लिए कहा. जैसे ही उसने चूत टाईट की मैंने जोर जोर से चोदा उसे. और मेरे लंड की एक एक बूंद निकल के उसकी चूत में समां गई. वो भी शांत हो गई और मैं भी. उसके छेद से लंड को निकाल के मैंने उसकी गरम गरम चूत को और एसहोल को चाटा जिस से वो एकदम होर्नी फिल करने लगी थी.

मैंने कहा, मैं पिल ले आऊंगा कुछ देर में फिर कोई प्रॉब्लम नहीं होगा, वो मेरे सिने से लिपट गई और बोली, थेंक्स!!!!