मेरी बीवी को दुसरो के लंड लेते हुए देखा

हाई दोस्तों मेरा Antarvasna नाम सिद्धार्थ हे और मैं मेरिड आदमी हूँ. मेरी वाइफ की उम्र 25 साल की थी जब उसकी और मेरी शादी हुई थी. और पिछले दो सालों में बहुत कुछ बदल चूका हे. शादी की पहली रात को ही मुझे पता लगा की वो वर्जिन नहीं थी. लेकिन मैंने उसे कुछ भी नहीं पूछा. शादी के पहले मैं भी गे सेक्स करता था. और मैंने बहुत लोगों से अपनी गांड भी मरवाई थी. मेरे बहुत सब गे पार्टनर थे जिसके साथ मेरे बायसेक्सुअल रिलेशन थे वो भी मेरी वाइफ के बारे में मुझे पूछते ही थे.

हमारी शादी के कुछ दिनों में मैंने वाईफ के साथ लखनऊ मूव कर लिया जहाँ मेरी जॉब थी. मेरी बीवी का चहरा और फिगर एकदम सेक्सी हे. और उसकी आँखे नशिली और हवस से भरी हुई हे. 1 महिना बिट गया और मेरे दोस्तों मेरी बीवी के लिए ही पूछ रहे थे. मैं खुद भी उसे दुसरे मर्द से चुदते हुए देखना चाहता था लेकिन उसे कुछ कहने की हिम्मत नहीं हुई मेरी.

मैंने अपने एक दोस्त को कहा की मैं तेरा और मेरी वाइफ का इंट्रो करवा देता हूँ लेकिन आगे का सब कुछ तुझे अपने अंदाज से करना होगा. उसने मुझे कहा तू आज से अपनी बीवी को चोदना मत जब तक मेरा काम ना हो जाए. मैंने कहा ठीक हे. और फिर वो अक्सर मेरे घर पर आने लगा था. और मेरी बीवी भी उसके क्लोज सी हो चुकी थी. मैंने अपनी इस दोस्त सूरज को कहा जब तू मेरी वाइफ की चूत को चोदे तो मैं उसे देखना चाहता हूँ.

करीब दो हफ्ते के बाद उसने कहा की आज मैं तेरी बीवी को सेड्युस करूँगा सेक्स के लिए. आज मेरा भी बीवी को चुदते हुए देखने का सपना पूरा होता लग रहा था. संडे का दिन था. मैंने सुबह के 8 बजे मैं अपने घर से निकल गया. मेरी बीवी भी पडोसी के वहां गई तब मैं चुपके से वापस घर में घुस गया और छिप गया. सूरज कुछ देर बाद घर पर आया मेरी बीवी के साथ में ही. उसने कहा भाभी कोफ़ी पिला दो अपने हाथ से. वो कोफ़ी बनाने के लिए गई तो सूरज भी उसके पीछे चला गया. उसने पीछे से मेरी वाइफ की गांड को टच कर दिया. मेरी बीवी ने हंस के जैसे इग्नोर सा कर दिया.

ये देख के तो सूरज की हिम्मत एकदम से बढ़ गई. उसने वाइफ को पीछे से जकड़ लिया अपनी मजबूत बाहों में. मेरी वाइफ ने उसे दूर किया और कहने लगी की ये गलत हे. सूरज ने कहा भाभी मैं किसी को कुछ नहीं कहूँगा. मेरी वाइफ को भी लंड नहीं मिला था दो हफ्ते के ऊपर से. इसलिए वो भी चुदासी ही थी. सूरज उसके करीब हो गया और उसके होंठो के ऊपर चूमने लगा. और उसने मेरी बीवी के बूब्स को भी अपने हाथ में पकड़ के मसल दिए. मेरी वाइफ भी गरम हो चुकी थी अब तो.

अब सूरज ने उसके कपडे खोले और मेरी वाइफ को एकदम न्यूड कर दिया. और वो मेरी बीवी के बदन को चाटने लगा. मेरी वाइफ तो जैसे जन्नत में विह्र रही थी. अब उसने भी सूरज को नंगा कर दिया और उसके लंड को पकड़ के खेलने लगी उसके साथ. और फिर उसने लंड को एकदम से अपने मुह में ले लिया और चूसने लगी उसे. साली ने मेरा लंड कभी नहीं चूसा था और अभी एकदम मजे से सक कर रही थी इस लंड को!

और फिर सूरज ने मेरी वाइफ को बेड में लिटा दिया और उसकी टांगो को एकदम चौड़ा कर दिया. मेरी बीवी ने उसके लंड को पकड़ के अपने छेद पर लगाया. सूरज ने एक धक्के में लंड को पेल दिया मेरी सेक्सी बीवी की चूत के अन्दर और वो उसे चोदने लगा. मेरी बीवी आह्ह्ह अह्ह्ह्ह कर के चुदने लगी थी. कुछ देर में ही सूरज ने अपने लंड का पानी मेरी बीवी के पेट पर छोड़ दुया.

फिर सूरज और मेरी बीवी नंगे ही एक दुसरे के साथ बातों में लग गए. वो लोगों ने एकाद घंटा बात की. फिर सूरज एक बार और मेरी बीवी को चोद के घर से निकल गया. मैं भी चुपके से निकल गया जब मेरी बीवी नहाने के लिए गई थी. सूरज मुझे शाम को बार में मिला. वो बहुत खुश था मेरी बीवी की चूत चोद के.

मैंने उस से बात की और उसको बोला की मेरी बीवी ने तो कभी मेरा लंड नहीं चूसा.

वो हंस के मुझे बोला की तेरी बीवी तेरे सामने एक आदर्श गृहिणी बन के आती हे. जब की रियल में वो एक रांड जैसी औरत हे. और सूरज ने मुझे बताया की उसके और मेरी बीवी के बिच में क्या लम्बी बातें हुई थी. सूरज ने मुझे कहा की तेरी बीवी ने शादी के पहले 3 अलग अलग लंड को लिए थे.

जब मैं घर गया तो बीवी ने ऐसे एक्टिंग की जैसे कुछ हुआ ही नहीं था.हां आज शायद उसे लंड मिला था दो बार इसलिए वो खुश थी बाकी दिनों से.

और फिर सूरज रोज मेरे घर आने लगा. वो मेरी बीवी को ब्ल्यू फिल्म्स दिखा के चोदता था. और फिर एक दिन सूरज अपने साथ मेरे एक और दोस्त राजू को भी ले के आ गया. अब राजू भी अक्सर मेरी बीवी को चोदने लगा था. मैंने सोचा की मेरी बीवी को रंगेहाथ पकड लूँ. और मैं उसे कह देना चाहता था की तुम जिसका लंड लेना चाहो ले सकती हो लेकिन मैं कभी कभी बायसेक्सुअल करूँ तो मुझे करने देना. मैंने सूरज और राजू से ये बात की.

मैं घर में ही छिपा हुआ था तब वो दोनों आ गए. वो दोनों ने बीवी को पकड़ा और उसे बेडरूम में ले गए. वहा पर दोनों ने उसे नंगा किया और लंड चूसने को कहा. बीवी ने दोनों के चुसे और फिर चुदाई चालू हुई. मेरी बीवी की गांड भी मार ली इन दोनों ने. एक तरफ वो लंड लेती थी चूत या गांड में और तब वो दुसरे लंड को चुस्ती थी.

अब मेरी बारी थी कमरे में एंट्री करने की. मैं कमरे में घुसा और बोला, अरे बहनचोद ये कौन सी ब्ल्यू फिल्म चल रही हे मेरे घर में! मेरी बीवी मुझे देख के घबरा गई और मेरे दोस्त भी खदे हो गए. और वो दोनों ने सोरी कहा कपडे पहने और भाग गए.

मेरी बीवी ने अपने बदन के ऊपर चद्दर लपेट ली थी. और वो एक कौने में बैठ के खूब रो रही थी. मैं उसके पास गया. उसने रोते हुए ही सोरी कहा मुझे. मैंने उसे उठा के बिस्तर पर बिठा दिया. वो अभी भी रो रही थी. मैंने उसकी आँखों से आंसू पोंछ दिए.

वो मेरे से लपट के और रोते हुए बोली, सोरी मुझे माफ़ कर दो प्लीज़ मेरे पापा मम्मी को कुछ मत कहना प्लीज़ प्लीज़!

मैंने कहा अरे किसी को कुछ नहीं कहूँगा तुम पहले रोना बंद कर दो अपना. वो चूप हो गई. मैंने उसे पूछा कब से चल रहा हे ये सब? वो निचे देख के बोली एक महीने से. मैंने कहा तो तुमने मुझे कहा क्यूँ नहीं कुछ? वो कुछ भी नहीं बोली. मैंने कहा अभी तुम सो जाओ काल बात करेंगे. हम दोनों ही सो गए.

सुबह उठ के मैंने उसके बूब्स निकाल के दबाये और मैं आज दो महीने के बाद उसे छू रहा था. वो मुझे हग कर के किस करने लगी. मैंने कहा सूरज का लंड चुस्ती हो लेकीन मेरा नहीं. वो चूप रही. मैंने कहा तुम्हे उन दोनों के लंड लेने पसंद हे? वो कुछ नहीं बोली. मैंने कहा बेबी प्लीज़ टेल मी!!!

वो धीरे से बोली, हां!

मैंने कहा, अब तक कितने लंड लिए हे तुमने?

वो बोली, इन दोनों को मिला के पांच लोगो के.

मैंने कहा, तुमने एक राज नहीं बताया तो मैंने भी एक राज नहीं बताया तुमको. तुमको पराये लंड पसंद हे तो मैं भी आधा गे और आधा स्ट्रेट हूँ. मैं भी कभी कभी अपनी गांड मरवाता हूँ. हम एक काम करते हे तुम पराये मर्दों से चुदवाना और मैं अपने दोस्त लोगो के लंड गांड में लूँगा. तुम किसी को कुछ मत कहना और मैं भी नहीं कहूँगा!

वो हंस पड़ी और बोली, अच्छा तो क्या ये तुम्हारी ही चाल थी?

मैंने कहा, हां डार्लिंग, चलो अब मेरे लंड को चुसो!!!!