दोस्त की मामी को ब्लेकमेल कर के चोदा

हेलो दोस्तों मैं Antarvasna सूरत का रहने वाला हूं अब मैं कहानी शुरू करता हूं, यह कहानी आपको पसंद आए तो मुझे प्लीज मेल जरुर करना. यह लव स्टोरी में कुछ नाम बदल दिए हैं मैंने.. आपको यह बता दूं कि मेरे फ्रेंड का नाम विकी रखा है, और मेरे एक कजिन भाई के फ्रेंड का नाम मैंने राजीव रखा है. तो आप समझ सकते हो ऐसा क्यों किया. यार बात किसी को पता ना चले क्योंकि वह भी इस साइट पर पढ़ता है समझे फ्रेंड.. मेरा खास दोस्त का नाम विक्की है मैंने उसकी मामी को कीस तरह ब्लैकमेल करके चोदा उसकी कहानी बताने जा रहा हूं.

फ्रेंड विकी की मामी जिसकी उम्र ३२ साल होगी स्लिम और स्मार्ट है. जब भी उसके बूब्स देखता तो मैं पागल हो जाता. वह लोग जॉइंट फैमिली में रहते थे. मामी का नाम अंजली है, अंजलि के दो बच्चे हैं. दोनों लड़के हैं दोनों की उम्र ५ साल और ३ साल है. विकी के घर में सिर्फ ३ लोग है क्योंकि उसके पिताजी और मोम का एक्सीडेंट हो गया था और वह गुजर गए. विकी के मामा ज्यादातर आउट ऑफ स्टेशन रहते थे. अंजलि(अंजू) और विकी के घर जब भी जाता तो अंजू और मामाजी(अरुण) ज्यादातर झगड़ा करते रहते थे, मुझे तो मामी बहुत अच्छी लगती थी सेक्स के लिए.

मे अपने दिलो दिमाग में मामी को चोदने का ख्याल बना चुका था मैं तो उसको चोदने के लिए इंतजार कर रहा था. मुझे अंजू को चोदने का आईडिया मिल गया. मेरे कजिन भाई का फ्रेंड है राजिव उसने बहुत लड़कियों को पटा के उनके साथ सेक्स कर चुका था, और वह भी अब एक लेडी को पटा के साथ में कॉफी पी कर आया था, तो मैंने उसे रिक्वेस्ट की कि मैं १०००० रूपये दूंगा तुम मेरा काम कर दो, ताकि मैं अंजू को ब्लैकमेल कर सकूं, पर मुझे डर था कि कहीं यह बात विकी को ना पता चल जाए.

मेरा लक जोरों पर था और विकी को अपने कजिन भाई की शादी में १० दिनों के लिए जाना पड़ा, और अंजू मुझ से अच्छी तरह से बात करती थी. तो विकी के जाने के बाद वहां गया और थोड़ी इधर उधर की बातें की और फिर अगले दिन भी गया. राजीव ने अब उस को ब्लैकमेल करने का प्लान बना लिया था. मैंने उसे सारी इनफार्मेशन दे दी, कि वह कब कहां जाती है और क्या करती है? तो हमारा प्लानिंग रेडी था. राजीव ने अंजू मामी को रास्ते में रोका और पूछा फ्रेंडशिप करोगी? अंजू ने ध्यान नहीं दिया और वह घर पर आ गई.

मैं वहां पिछे की दीवाल से खड़े हो कर देख रहा था, अगले दिन राजीव उनको वहीं पर फिर से मिला और कहा कि मैं आपसे प्यार करता हूं, और अपनी फीलिंग्स उनको बताई. अंजू बिना कुछ कहे चली गई, तीसरे दिन भी राजीव ने ठीक वैसा ही किया पर कुछ बात नहीं बनी, राजीव ने मामी को गिफ्ट भी देने की कोशिश की पर बात नहीं बनी, अंजू ने वह हाथों हाथ वापस कर दिए और चली गई. चौथे दिन मामी घर जाने के लिए बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रही थी, राजीव अपने गिफ्ट वापस लेकर आया और मामी को देने लगा, पर मामी ने ना कहा और उसे कहा तुम्हें क्या चाहिए?

राजीव बोला सिर्फ एक कप चाय और कुछ भी नहीं, अंजू मामी ने ओके कहा और पूछा कहां पर? राजू ने कहा मेरे घर पर, मेरे घर पर कोई नहीं है. अंजू ने कहा ठीक है और वह उसकी बाइक पर बैठ कर चली गई, जब वह घर पहुंचे तो मैं उनसे २ मिनट पहले पहुंच कर अपना प्लान रेडी कर लिया था. मैं कैमरा के साथ रेडी था, वह घर में आए और ड्राइंग रूम में बैठ गए. मेरे फ्रेंड ने उनको पीछे से पकड़ा और उनको किस करने लगा. और वह मैं सब रिकॉर्डिंग कर रहा था, अंजू ने उसे धक्का दिया और उसको २-३ गाली देकर वहां से चली गई.

मैंने वो सीडी बना लिया और मैं उसको ब्लैकमेल करने के लिए तैयार था. वह घर आई और १५ मिनट बाद में उनके घर आया. और मैंने कहा कि विकी के रूम में गया था और वह किसिंग सीन स्टार्ट कर दिया, और कहां मामी अंदर आओ और वह भी आई और यह देखकर वह चौंक गई. यह तुमको किसने दिया? मैंने कहा वह लड़के ने. वह बोली इसे मुझे दे दो, मैंने कहा की नहीं. मैंने कहा इसके बदले में आपको मुझे कुछ देना होगा, वह बोली क्या?

मैंने कहा कुछ नहीं बस मैं आपके साथ एक बार सेक्स करना चाहता हूं. उन्होंने मुझे ना बोल दिया, और मैंने कहा फिर ठीक है यह जो सीडी की एक को कॉपी में विकी को देता हूं, और एक आपके प्रिय पतिदेव को मेल करके सेंड कर देता हूं. फिर आप और आप ही जाने क्या होगा.. फिर बोली रुको. प्लीज ऐसा मत करना, क्योंकि उनको अपना घर संसार बचाना था. और वह बोली सिर्फ एक बार.. मैंने कहा हां सिर्फ आज रात फिर ये सीडी मुझे दे दोगे.. मैंने कहा ओके. मैंने कहा अंजू डार्लिंग माय जान पहले अपने दोनों बच्चों को सुला कर आओ, फिर वह गई १५ मिनट बाद आ गई और हम दोनों उसके रुम में चले गए.

मैंने उनको रूम में ले जाकर लॉक करके चाबी अपने पेंट की जेब में डाल दी ताकि कहीं जा ना सके और कोई आ ना सके, और फिर लाइट बंद कर दिया और जीरो बल्ब ओन कर दिया. फिर पीछे से आकर उनको पकड़ लिया और उनके होंठों को चूसने लगा, और ५ मिनट तक हम एक दूसरे को किस करते रहे और वह थोड़ा रिस्पांस दे रही थी. ऐसा करने के बाद मैंने फिर अपने होंठ उसके बूब्स पर रख दिए और चूसने लगा. उनके मुंह से सिसकियां निकल रही थी, फिर मैंने उनका सलवार भी उतार दिया और पेंटि उतार दी, और फिर अपने होंठ उनकी चूत पर रख दिया, अंजू की चूत एकदम क्लीन शेव थी, उनके मुंह से सिसकियां निकल रही थी. मैंने अपनी जीभ उनकी चुत में घुमाना शुरू कर दिया और फिर धीरे धीरे चाटने लगा.

फिर मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए और बेड पर लेटा के उनके ऊपर चढ़ गया. और अपना लंड उनके मुंह में दे दिया और चूसने को कहा, वह ना बोली पर मान गई. और मेरे लंड की मस्त से चुसाई करवाई और ५ मिनट बाद मैंने अपना लंड निकाल कर उस की चूत पर रख दिया, मैंने धीरे धीरे धक्के लगाने शुरू कर दिए, अंजू के मुंह से आवाजे निकल रही थी, मेरा ७ इंच का लंड उनको बर्दाश्त नहीं हो रहा था, वह बीच बीच में बोल रही थी थोड़ा धीरे करो.

लेकिन मैं तो अपनी स्पीड से उनको चोदे जा रहा था, उनकी चूत से माल निकल रहा था और पच पच की आवाज आने लगी थी, १५ मिनट तक चोदने के बाद मैंने उनसे कहा कि मैं झड़ने वाला हूं, मैं अपना वीर्य कहां गिराउ? वह कुछ नहीं बोली और मैंने अपना वीर्य चूत में ही गिरा दिया और मैं बेड पर एक साइड लेट गया, फिर रात के १:३० बजे उठा और अपना लंड फिर खड़ा करके उनके ऊपर लेट गया.

वह बोली तुमने तो एक बार का कहा था. मैंने कहा कि मैंने आज रात की बात की है. उनको मैंने रात को दो बार और चोदा, और जब सुबह हुई तो वह मुझे सीडी मांगने लगी. तो मैंने कहा कि नहीं मैडम अब क्या शेर के मुंह में खून लगा दिया तो क्या वह घास खाएगा? तो वह मुझे गाली देकर रुम से बाहर चली गई, और मैंने जाते जाते उनको बोल दिया कि मैं वापस आऊंगा और वहां से चला गया