कुंवारी लड़की की कुवैत में चुदाई

हेलो दोस्तों मेरा Antarvasna नाम जिलानी है और मैं आज अपनी सेक्स की एक कहानी आप लोगों के लिए लेकर आया हूं, सीधे कहानी पर ही आता हूं. दोस्तों मुझे पता है आपको चूत लंड की बातें ही सुननी है.

मेरी उम्र २६ साल है मैं एक अमेरिकन कंपनी में कतार में काम करता था, अब मेरी पोस्टिंग कुवैत में हो गई है.

कुवैत में ऑफिस के पहले दिन में सब से मिला, वहां पर एक लड़की थी, एकदम गोरी, बदन ऐसा कि दिल करे अभी उसे चोद दूं, जब लंच टाइम हुआ तो उसने मुझे कहा आप भी खाना खा लो.

तो मैंने उसके साथ खूब बातें की और मैंने उसको पूछा तुम कहां से हो?

तो उसने बताया कि वह पाकिस्तान से है, उसकी उमर २६ साल है और नाम सदाफ खान हे, वह अपने परिवार के साथ कुवैत में रहती थी. दोस्तों अब कहानी पर आते हैं कि मैंने उसे कैसे चोद दिया.

उस दिन फ्राइडे था, मैं नेट पर बैठा था. तो सदाफ भी ऑनलाइन आ गई, उसने मुझसे पूछा तुम कहीं घूमने गए? आज छुट्टी है कहीं बाहर घूमने चले जाते. वैसे भी तुम नए हो कुवैत नहीं देखा तुमने.

मैंने उसे कहा मेरा कोई दोस्त नहीं है यहां पर, नयी जगह में किसी को जानता नहीं.

तो उसने कहा मैं हूं ना दोस्त, आप मेरे साथ चलो घूमने.

मैंने उसे हां कर दिया, उसने मुझे एक मॉल में बुलाया और मैं जल्दी से तैयार होकर वहां चला गया. हम लोग शाम को ४ बजे तक घुमे.

फिर उसने कहा आज इंडिया पाकिस्तान का मैच है मुझे बहुत शौक है मैच देखने का.

तो मैंने कहा मेरे कमरे पर चलते हैं, वहां बैठ कर मैच देखेंगे.

वह राजी हो गई, मेरा कमरा मुझे कंपनी की तरफ से मिला था. हम कमरे पर पहुंचकर मैच देखने लगे. उसने अचानक चैनल बदल दिया तो उसमें एक लड़का लड़की को चूम रहा था, और फिर उसके कपड़े उतार कर चोदने लगा. वह यह देख कर कुछ शर्मा सी गई और मेरी तरफ देखने लगी.

मैंने कहा तुमने भी किया है यह सब.

तो उसने कहा उसका बॉयफ्रेंड था लेकिन कभी सेक्स नहीं किया, किस किया था उसके साथ.

मैं उसके पास जा कर बोला, कभी दिल करता है सेक्स करने का?

तो वह शरमा गई और कहने लगी मैं चलती हूं अब, अम्मी इंतजार कर रही होगी.

मैंने कहा तुमने जवाब नहीं दिया.

तो वह अचानक मेरे सीने से चिपक गई और बोली प्यासे को पूछ रहे हो कि पानी चाहिए?

बस मुझे यह मौका मिला और मैं उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा. काफी देर तक चूसने के बाद उसने मेरी शर्ट खोल दी और मैंने उसकी शर्ट उतार फेंकी. अब मैं अंडरवियर में था और वह ब्रा और पैंटी में थी. तब मैंने उसकी ब्रा और पैंटी को भी उतार फेंका, और उसने मेरा अंडरवीयर उतार फेंका. अब हम दोनों एकदम नंगे थे. मैंने उसे मेरा लंड चूसने को कहा, तो उसने लंड मुह में ले लिया. कुछ देर चूसने के बाद मैंने उसे बिस्तर पर लेटने को कहा और टांगें चौड़ी करने को कहा, उसने वैसा ही किया तो उसकी चूत एकदम मेरे सामने थी एकदम गुलाबी और मस्त.

मैं पागलों की तरह उसकी चूत पर टूट पड़ा और चाटने लगा, मैंने काफी देर उसकी चूत चाटी वह पागलों की तरह अहह औऊ इई औऊ उसस एस अश्श्ह ईई अम्म अईई करने लगी.

फिर उसने धीरे से कहा अब चोद दो मुझे.. मुझे चोद कर अपनी बना लो.

मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और हल्का सा धक्का मारा, तो लंड का टॉप उसकी चूत में चला गया, वह चीख पड़ी मैंने जल्दी से अपने होंठ उसके होंठों पर रखे. फिर मैंने उसे समझाया तुम कुंवारी हो ना इसलिए दर्द हो रहा है.

तो उसने कहा कुछ करो, बर्दाश्त नहीं हो रहा.. बहुत दर्द हो रहा है.

मैं उसके ऊपर से उठा और लंड पर तेल लगाकर फिर उसकी चूत में डाला तो लंड एक धक्के के साथ आधा अंदर चला गया, फिर वह चीखी लेकिन इस बार मैंने जल्दी से उसके होंठ दबा दिए, और हल्के हल्के धक्के मारने लगा. अब उसका दर्द भी कम होने लगा और वह भी गांड उछल उछल कर मजे लेने लगी, काफी देर ऐसा करने के बाद मैंने उसे अपने ऊपर आने को कहा, तो वह फटाफट ऊपर आ गई और गांड उछल उछल कर धक्के मारने लगी. उसकी गांड काफी बाहर निकली हुई थी. फिर मैंने उसे कहा घोड़ी बन जाओ मुझे चोदना है तुम्हें.

तो वह मस्त आवाज निकालने लगी और मजे लेते हुए घोड़ी बन गई, जैसे ही वह घोड़ी बनी, मैंने उसकी चिकनी चूत में लंड डालकर धक्के मारने लगा, वह मस्त आवाजे निकलती रही.

उसने कहा मैं जाने वाली हूं मेरी चूत से पानी निकल रहा है.

वह जड़ गई और मैंने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और अब मैंने उसे कहा पहले लंड का पहला पानी लेने के लिए तैयार हो जाओ, और मैंने दो और झटके मारे और उसकी चूत में पानी डाल दिया, फिर उसने लंड को चाट कर साफ किया और हम दोनों नहाने चले गए.

इस तरह हम दोनों की चुदाई का सिलसिला कई महीनों तक चलता रहा, मैंने कई दफा उसकी गांड भी मारी.

लेकिन दोस्तों अब मैं वापस इंडिया आ गया हूं, क्योंकि मेरी कंपनी अब मुझे कनाडा भेजने वाली है. वह नेट पर मेरे से बात करती है और मुझे याद करती है.