पड़ोसन लड़की को जन्नत दिखाई

यह कुछ दिन पहले की रियल सेक्स स्टोरी है. इसमें मैंने थोड़ा अपना इमेजीनेशन डालकर स्पाइसी किया है,, अच्छा लगे तो मुझे कमेंट जरूर देना.

उसने एक किस मांगा, गाल पर करा. मेरा मन नहीं भरा. मैंने उसे बाहर चलने को कहा. स्टेरकेस के नीचे की जगह चुनी. वह मेरी गोद में बैठी थी, उसकी परमिशन ली फिर से करने के लिए और जोर से जकड़ कर हल्का किस करना शुरू किया. ५ मिनट तक कोई रिस्पांस नहीं किया.

फिर उसने मेरे बालों में हाथ डालकर जोर से खींचा और जोर से लिप किस कर दिया, मैं तो गरम हो गया और मैंने उसकी टीशर्ट ऊपर करके सारे बूब्स निपल पर किस कर डाला. उसके निपल डार्क कलर के थे, और बूब साइज 32 थी. निप्पल पर बाईट मार्क भी बना लिया, अब वह भी हॉट हो रही थी, किस ब्रेक किया और अंदर आ गए..

अगले दिन उसकी आंटी धार्मिक ट्रिप के लिए वेलनकन्नी, तमिलनाडु जाने वाली थी. दोनों को मौका मिल गया जो चाहिए था.

अगले दिन मैं उसके घर पहुंच गया, जाते ही बूब्स प्रेस करके हेलो किया. फिर मैंने गेट बंद कर दिया उसने पर्पल साड़ी पहनी थी स्लीवलेस ब्लाउज था परफ्यूम और फुल मेकअप.

मैं उसे उठाकर बेडरूम में ले गया, पीछे से हग कर के उसकी नेक कुत्ते की तरह किस करने लगा, उसने भी रिस्पॉन्स किया, और पीछे मुड़कर कमर, सर और नाक पर किस किया, उसकी आंखें बार बार बंद हो रही थी. मैंने उसकी कमर पर किस करते हुए कहा सेक्सी यू आई लव यू. उसने मुझे और टाईट से हग किया, मैंने उस पर टॉप उतार दिया और उसके ब्रेस्ट मेरी आंखो के सामने थे.

मैंने अपना मुह उनमे डाल दिया और किस करने लगा, वह शरमा रही थी. मैंने उसका हाथ अपने हाथ में लिया और उसे अपनी गोद में बिठा दिया. अभी भी वह नजरें नहीं मिला रही थी. मैंने उसके होंठ और जीभ को सक करके स्मूच करना शुरु कर दिया..

मैंने अपने हाथ को उसकी चूची पर रखकर सहलाया. वह लंबी सांसे लेने लगी और मेरा लौड़ा उसकी पांव के बीच में घुस रहा था. फिर मैंने उसके कान में बोला, उसने मुस्कुराया और आँखे नीचे रखी. अब मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया. मैंने उसे बिठाया और उसके टी शर्ट, स्लिप और पेंट उतार दिए. मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए. अब हम सिर्फ अंडरवियर में थे.

उसकी टाइट ब्रा में उसके बड़े बुब थे और पेट पर कोई चर्बी नहीं थी. मेचिंग पिंक पेंटि गीली हो चुकी थी, मैंने उसका सर ऊपर उठाया और कहा यह वह चीज है जिसे तुम देखना और फिल करना चाहती थी.. उसने मुझे हग कर लिया और मेरा कड़क लंड उसकी पांव पर रब कर रहा था. मैंने उसका ब्रा का हुक खोल कर उसके बूब को फ्री कर दिया.

मुझे तो रहा नहीं गया और मैंने पागलों की तरह उन्हें सक कर दिया, उसके बड़े बूब्स पर बाईट भी खूब किया. मेरा डिक तो बहुत ऊपर नीचे कर रहा था. वह मेरे बालों को बहुत जोर से पकडे हुए थी और उसकी बॉडी कांप रही थी.

फिर मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी पर रखा और रब किया. वहां पर बाल थे जैसा की मुझे पसंद है, मैंने उसकी पैंटी उतार दी. पर वह अपने पांव जोड़कर छुपाने की कोशिश कर रही थी. मैंने उसका हाथ हटाकर उसके पांव खोल दीए वाह नेचुरल ब्यूटी बहुत बाल और बीच में दो लिप थे.

उसकी खुशबू मदहोश कर देने वाली थी, फिर मैंने उसके लिप पर किस किया. वह सिहर गई, मैंने जीभ से लिप को लिक कीया. वह सोल्टी था, पर मेरा मन कह रहा था कि बिना रुके चूसते रहो. वह कहने लगी, बस बहुत हो गया.

फिर मैं खड़ा हूंआ, उसे बेड पर बैठाया और उसका हाथ लेकर ईन्नर के ऊपर रखा. वह हैरान होकर बोली इतना बडा मेरे छोटे छेद में कैसे जाएगा? मैंने आँख मारी और कहा मैं दिखाता हूं कैसे जाता है? उसने मेरा गरम लंड इनर के अंदर हाथ में लिया और हिलाने लगी.

मैंने अपना बॉक्सर निकाल दिया, वह मेरा लंड देखती ही रह गई, क्योंकि यह उस का पहली बार था, और उसने अपना हाथ मेरे बोल के पास रखा और खेलने लगी.

मैंने उसके बाल पकड़ कर अपने लंड की तरह पूश किया और उसे टेस्ट करने को कहा, पर वो बोली छि नहीं.. मैंने कहा एक बार टेस्ट करो, अगर नहीं पसंद आया तो मत करना..

उसने फ़ोर्स से टिप को मुंह में लिया पर टेस्ट नहीं किया, सो मेंने अपने लंड की चमड़ी पीछे कि और उस से टंग से लिक करने को कहा, वह मेरे बोल्स पकड़ कर धीरे धीरे सक करने लगी, उसने मेरी बॉल किस की और सारे कोक को लिक किया..

मैंने पूछा क्या हम सेक्स करें?? उसने कोई जवाब नहीं दिया तो मैंने उसके पैर खोल कर उसकी गरम चूत को चाटने लगा, और मैं साथ में उस के बड़े चूचो को दबा रहा था. मैं दो उंगली डालकर फिंगरिंग स्टार्ट कर दिया, तो वह बहुत गरम हो गई और कहने लगी. अपना लंड अंदर डालो. मैंने उसे बैड पर लिटा दिया और अपना लंड उसकी गांड और चूत के बीच में रब कर के उसे गर्म करने लगा.. ये कहानी सब से पहले हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कॉम आप के लिए ले के आये!

वह जोर जोर से मोन कर रही थी, मैंने उसके हॉल की तरफ पॉइंट किया और वह बहुत टाइट था और थोडा भी नहीं जा रहा था और वो दर्द से चिल्ला रही थी. मुझे लगा मुझे बंद करना चाहिए, लेकिन मुझे पता था कि यह बात कोमन है पहली बार और मैंने उसे प्लेजर देने का सोचा. मैंने अपने हाथ से उसके हाथ को पकड़ लिया और अपना लंड उस के होल की तरफ करके उसके ऊपर लेट गया और अपना लंड धीरे से पूश करने लगा.

उसने मेरी जीभ और होंठ पर पेईन की वजह से बाइट किया और एक पॉइंट पर दोनों को जर्क महसूस हुआ और मेरा आधा लंड उसकी चूत में चला गया और उसकी आंखें बंद हो गई, और उसकी चूत से खून निकलने लगा, मैंने अपना लंड १० मिनट तक उसके अंदर रखा और अंदर बाहर करना शुरु कर दिया, उसको अब दर्द कम हो रहा था और वह इंजॉय करने लगी.

मेरी नेक पर किस करने लगी और छाती पर बाईट किया, मैंने उसके बूब्स को दबाया और सक करने लगा, फिर मैंने अपनि स्पीड बढ़ा दिया वह अपनि गांड उठाकर मुझे साथ दे रही थी, और अपने पैर को फैला रही थी, मेरा पानी और उसका पानी साथ में मिलकर बहुत पच पच पच पच आवाज कर रहे थे.

फिर मैंने उसे टॉप पर आने को कहा तो वह ऊपर आकर धीरे धीरे ऊपर नीचे करने लगी, उसके बूब्स जम्प कर रहे थे और वह मेरी जिंदगी का सबसे अच्छा दिन था. मैं उसकी गांड को दबा रहा था और उसे मेरे को फक करवा रहा था, मेरा कम नीकलने वाला था तो मैंने उसे बैठने को बोला और उसके चुचियों पर सारा काम छोड़ दिया. हम बहुत पसीने से लथपथ हो गए थे.

फिर हमने एक साथ शोवर किया और सेक्स भी किया, और सुबह तक ५ टाइम सेक्स किया..